कश्मीर में शहीद हुए शंकर सिंह, फायरिंग शुरू होने पर माँ से फोन पर कही थी ये बात

0
2362

कश्मीर वैसे तो भारत का स्वर्ग कहा जाता है लेकिन जितनी जाने भारत के जवानों की यहाँ पर गयी है वो अपने आप में लोगो की आँखे आंसू से भर देता है. अभी हाल ही की बात ले लीजिये जब हंदवाड़ा में जो हुआ वो अपने आप में बड़ा ही दुर्भाग्यपूर्ण था और जवानो के परिवारों के आँखे भर देने वाला था. इन सबमें एक जवान और थे जो शहीद हुए और उनका नाम था शंकर सिंह.

गंगोलीहाट के नाली गाँव के रहने वाले नायक शंकर सिंह अपनी ड्यूटी पर पोस्टेड थे और अपनी माँ से परिवार से फोन पर बात कर रहे थे तभी उन्हें अलर्ट मिला और पता चला कि बाहर तो फायरिंग शुरू हो गयी है. इस पर शंकर सिंह ने तुरंत अपनी माँ से फोन पर कहा ‘माँ फायरिंग शुरू हो गयी है. अभी फोन रखता हूँ बादमे बात करूंगा.’

ये कहकर के शहीद शंकर सिंह अपनी ड्यूटी निभाने के लिए दुश्मनों से भिड़ने चले गये. मगर कौन जानता था वो वापिस सलामत नही लौटेंगे. कुछ समय के बाद उनके परिवार को खबर मिली कि नायक शंकर सिंह शहीद हो गये है और जैसे ही ये खबर उनके घर पहुँची तो उनकी माँ और उनकी पत्नी दोनों ही बेहोश हो गयी. पिता की आँखों से आंसू रूकने का नाम नही ले रहे थे. शहीद शंकर सिंह के पार्थिव शरीर को ससम्मान विदाई दी जायेगी.

ये अपने आप में दर्द से भरा है लेकिन गर्व से सीना फूला देने वाला भी है इस बात में भी कोई संशय नही है. हालांकि कश्मीर को लेकर के अब सरकारे काफी ज्यादा सजग हुई है और अब वहाँ पहले की तुलना में हालात बेहतर करने के प्रयास भी हुए है. ये एक अच्छी बात कही जा सकती है और ऐसे में जरूरी है कि हम भी अपनी सेना को कम से कम मोरली सपोर्ट तो दे.