कुछ भी हालात हो इस पेड़ की सुरक्षा के लिए 24 घंटे लगे रहते है पुलिस के लोग, ऐसा क्या है ख़ास

0
138

हम लोग देखते ही है कि आम लोगो को कोई ख़ास सुरक्षा उतनी मिलती नही है और अक्सर जब वो प्रशासन से सुरक्षा मांगते है तो वो भी कोई इतनी आसानी से हासिल नही होती है. अब इतना बड़ा देश है तो थोड़ी दिक्कते तो होनी ही है लेकिन आज हम आपको बतायेंगे एक पेड़ के बारे में जिसकी सुरक्षा हर पल होती है. अब आप कहेंगे कि वो कोई सोने का पेड़ है क्या? तो जवाब है नही लेकिन वो पेड़ अपने आप में बड़ा ही ख़ास जरुर है.

ये पेड़ है मध्य प्रदेश के सान्ची स्तूप के पास मे बना हुआ पेड़ जो कि दिखने में काफी बड़ा और घना सा भी है. ये पेड़ सन 2012 में लगाया गया था और इस पेड़ को लगाया था मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान और श्रीलंका के तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने.

कहा जाता है कि भगवान् बुद्ध को जिस पेड़ के नीचे ज्ञान की प्राप्ति हुई थी उसकी एक टहनी को श्रीलंका में लगाया गया था और फिर उसी के पेड़ की टहनी को लाकर के यहाँ पर लगाया गया था. इस वजह से ये पेड़ ऐतिहासिक है. ये प्रस्तावित बौद्ध यूनिवर्सिटी के नाम लगाया गया था जो अपने आप में एक बड़ी बात है. इस वजह से इस पेड़ का दोनों ही देशो के बीच में जो सम्बन्ध है उस दृष्टि से भी काफी महत्त्व है.

इसके चलते इस पेड़ की कड़ी सुरक्षा की जाती है. पेड़ को न सिर्फ अच्छे खासे जाल से ढक कर के रखा जाता है बल्कि इसकी सुरक्षा के लिए हर वक्त एक से दो जवान भी लगे रहते है ताकि ये पेड़ को कोई जानवर नुकसान न पहुंचा दे. इन चीजो का अपने आप में बड़ा ही महत्त्व होता है और इसी कारण से इनकी सुरक्षा भी विशेष रूप से की जानी जरूरी हो जाती है.