अगर पीएम मोदी ने ले लिया ये बड़ा फैसला, तो चीन हड़बड़ा सकता है

0
514

इन दिनों में हालात किस तरह के हो रखे है ये बात तो हम सब लोग जानते ही है. चीन लगातार अपने डोमिनेंस को बनाये रखने के लिए प्रयास कर रहा है कि वो भारत समेत सब पड़ोस के लोगो पर अपना दबाव बनाये लेकिन सच तो यही है कि चीन के दिन अब लदने जा रहे है और भारत एक नयी शक्ति के रूप में उभर रहा है. अब पीएम मोदी के टेबल पर एक ऐसा ऑफर आया हुआ है जिसे लेकर के अगर वो हाँ भर देते है तो चीन नाराज भी हो सकता है और वो ऑफर है डी10 ग्रुप का.

इसे लेकर के काफी समय से एक रणनीति तैयार हो रही है जिसमे ब्रिटेन मुख्य भूमिका में है. यहाँ पर ब्रिटेन ने एक ग्रुप का प्रपोजल रखा हुआ है जिसका नाम है डी10 इसमें दुनिया के दस बड़े लोकतान्त्रिक देशो को जोड़ा जायेगा जिसका अभी का बड़ा काम 5जी टेक्नोलॉजी का आदान प्रदान है.

यानी ये दस देश आपस में एक दुसरे को फाइव जी से जुड़ा हुआ व्यापार देंगे. माना जा रहा है कि 5 जी आने वाले वक्त की जरूरत है और जो इसमें अपना जोर लगा देगा वो जीत जाएगा. चीन अपनी कम्पनी हुवावे के माध्यम से ये जंग जीतने मे लगा है और भारत में भी ये हुवावे के माध्यम से पाँव पसारकर अरबो खबरों डॉलर कमाना चाह रहा है. मगर अगर भारत डी10 ग्रुप का मेंबर बन गया तो महंगा होते हुए भी भारत नोकिया और एरिक्सन जैसी कम्पनियो की मदद से भारत में 5जी टेक्नोलॉजी को अपने देश में लाएगा.

ऐसा करने से कही न कही चीन इस रेस से बाहर हो जाएगा. अब सब कुछ निर्भर करता है कि पीएम मोदी इस डी10 ग्रुप का हिस्सा बनते है या फिर नही? अगर ऐसा होता है तो फिर ये चीन को परेशान करेगा और कुछ ज्यादा ही करेगा.