मोदी ने पहली बार डायरेक्ट दी जिनपिंग को चेतावनी, अब तक का सबसे बड़ा बयान

0
1313

हम सब लोग जानते है कि पिछले कुछ वक्त में किस तरह से भारत और चीन के बीच के रिश्ते खराब हुए है और लगातार तनाव बना रहा है. ऐसा इसलिए भी है क्योंकि चीन लगातार भारत के क्षेत्र में घुसने के प्रयास में रहा है और ये चीज कोई भी शक्तिशाली देश किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नही कर सकता है और ये बात हर कोई मानकर के ही चलता है. इसका उदाहरण प्रधानमंत्री मोदी जी ने अपनी मन की बात के कार्यक्रम में दे दिया और बड़े ही जोर शोर के साथ में दे दिया.

ऐसा पहली बार हुआ है जब प्रधानमंत्री मोदी ने इस तरह से चीन को और उनकी लीडरशिप को टारगेट किया हो. पीएम मोदी ने कहा हमने देखा है कि जिन लोगो ने पिछले दिनों में लद्दाख की भूमि पर आँख उठाकर के देखा था उनको किस तरह से करारा जवाब दिया है. भारत अगर मित्रता निभाना जानता है तो आँख में आँख डालकर के अच्छे तरीके से जवाब देना भी जानता है.

प्रधानमंत्री जी ने इसके बाद में अपने सैनिको के प्रति अपना काफी ज्यादा भरोसा जताया और कहा कि हमारे सैनिको ने साबित कर दिया है कि वो माँ भारती पर आंच भी नही आने देंगे. चीन को समझाते हुए मोदी कहते है कि पहले भी कई लोग ऐसे ही आक्रमण करने के लिए आये थे लेकिन हर बार भारत और भी ज्यादा मजबूत बनाकर के उभरा है इसलिए जो तुम कर रहे हो वो अब दुबारा करने की कोशिश भी मत करना.

सीमा पर चल रहे इस विवाद के बीच में प्रधानमंत्री मोदी का ये बयान साफ़ तौर पर बताता है कि वो आर पारके मूड में है और अगर चीन जरूरत से ज्यादा दखल देता है तो फिर उसकी तो खैर वैसे ही मन जायेगी इस बात को साफ़ तौर पर समझ लेना चाहिए.