नितिन गडकरी के एक बयान से पूरे चीन में हो गयी है हलचल, आ सकती है बड़ी प्रतिक्रिया

0
619

अभी हमने देखा ही है कि किस तरह से देश भर में लोग ही नही बल्कि सरकार भी एक तरह से चीन से परेशान हो रखी है और इस परेशानी के पीछे का कारण चीन के द्वारा की जा रही लगातार ज्यादती है जो बढ़ी है. चाहे वो किसी भी देश के साथ हो, आर्थिक मोर्चे पर हो या फिर किसी और कारण से हो. अब इस मामले में और आगे बात बढ़ी है क्योंकि भारत जो अकेला देश है इस रीजन में चीन को जावाब देने की ताकत रखने वाला उसने जवाब देना शुरू कर दिया है. कई जगहों पर से चीन को बाहर कर दिया गया है

और अब नितिन गडकरी का एक बयान तो कई सारी बातो को हवा दे रहा है. आपको मालूम तो होगा ही कि नितिन गडकरी अभी भारत के परिवहन मंत्री है. नितिन गडकरी ने हाल ही में एक बात क्लियर की है कि अब हाईवे और रोड से जुड़े जो भी कॉन्ट्रैक्ट होते है उनसे चीन की कम्पनियों को बाहर किया जाएगा और टेंडर भारतीय कम्पनियों को प्राथमिकता के साथ में मिलेंगे. भारत की कम्पनियां काम करने ममे सक्षम है हमें चीन की जरूरत ही नही है.

नितिन गडकरी साथ ही साथ में ये भी मेंशन करते है कि आत्मनिर्भर भारत को चीन से जोड़कर के न देखा जाए वो तो भारत की अपनी एक एम्बिशन है जिसे पूरा किया जाएगा. अब गडकरी का बयान काफी कुछ कह तो रहा है

लेकिन इस मामले में एक बात साफ़ हो जाती है कि कही न कही यहाँ पर चीन की तरफ से कुछ न कुछ प्रतिर्किया तो जरुर आएगा. अगर भारत इतना कुछ बोल रहा है तो फिर चीन भी किसी भी मायने में चुप तो बैठने से रहा और इस बात को मानकर के ही चलना होगा. हालांकि भारत हर जवाब के लिए पूरी तरह से तैयार है.