मास्क न पहनने पर वकील का काटा 500 का चालान, कोर्ट पहुँच गया वकील और की ये मांग

0
308

फ़िलहाल जिस तरह की स्थितियां चल रही है उसमे एक बात तो साफ़ है कि लोगो के लिए मास्क लगाने का नियम बन गया है लेकिन इसमें भी कई सारे विवाद और उलझाने है जिसमे लोगो को ये पता नही है कि क़ानूनन उनको कब मास्क लगाना है और कब नही लगाना है. ऐसे में आम लोग तो जब चालान आदि बनता है तो भर ही देते है लेकिन क्योंकि वकीलों को इसकी पूरी जानकारी होती है तो वो यहाँ पर उलझने से पीछे नही हटते है ऐसा ही कुछ देश की राजधानी नयी दिल्ली के गीता कॉलोनी इलाके में देखने में आया है.

यहाँ पर सौरभ शर्मा ड्राइव कर रहे थे और जब वो ड्राइव कर रहे थे तब उनको दिल्ली पुलिस के कुछ लोगो ने रोका और रोक कर के उनके मास्क न पहनने पर उनको 500 रूपये का चालान थमा दिया. इस पर वकील सौरभ शर्मा ने उन्हें आदेश दिखाने को कहा जो निकाला गया हो लेकिन वो उनके पास में नही था.

इस पर वो कोर्ट में पहुँच गये और उन्होंने न सिर्फ 500 रूपये के चालान को वापिस करने की मांग की बल्कि 10 लाख रूपये का हर्जाना भी माँगा है क्योंकि उनको काफी सार्वजनिक रूप से मानसिक क्षति झेलनी पड़ी है. वकील महोदय का कहना है कि वो अपने कार में निजी स्पेस में थे और यहाँ पर कोई भी और नही था, यानी ये कोई सार्वजनिक स्थान नही था और ऐसे में उनका चालान कैसे हो सकता है? इसी दलील के साथ में उन्होने कोर्ट में याचिका दायर की है.

ऐसे में पुलिस की तरफ से इस पर क्या कहा जाता है और क्या कुछ साक्ष्य पेश किये जाते है वो तो आने वाले वक्त में ही पता चल पायेगा बाकी इतना साफ़ है कि चीजे काफी साफ़ चालान के मामले में होने की जरूरत है.