विदुर नीति: जिन लोगो में होती है ये 3 आदते, उनको जीते जी भोगना पड़ता है नरक

0
5007

जीवन में हमें कुछ एक बड़े ज्ञान की जरूरत रहती है जो हमारा मार्गदर्शन करते और बताये कि हम लोगो को क्या करना चाहिए और क्या नही करना चाहिए क्योंकि इंसान है और उसकी प्रवृति ही ये होती है कि ये गलतियाँ करता है और जब ये गलतियाँ जरूरत से ज्यादा हो जाती है तो फिर ये संभले नही सम्भलती है और फिर दिक्कत पर दिक्कते पैदा करने लग जाती है जो जाहिर तौर पर कोई भी नही चाहता है और आप भी नही ही चाहेंगे.

चलिए फिर आज हम आपको विदुर नीति की तीन  बाते बताते है और समझाते है कि किन तीन आदतों को आज ही छोड़ दिया जाना चाहिए क्योंकि अगर आप इनको नही छोड़ते है तो फिर आपको जीते जी ही नरक भोगना पड़ता है और शायद ऐसा कोई भी अपने जीवन में व्यक्ति नही चाहता है.

  1. ऐसा व्यक्ति जो काम में डूबा रहता है यानी कामुकता में डूबा रहता है. जो भी व्यक्ति बस स्त्रियों के मोह में रहता है अलग अलग औरते पाने की लालसा में घूमता है उसका अंत अच्छा नही होता है और ये बात सब लोग जानते है. अखी न कही कामुकता ही इंसान को नीचे धकेलती है.
  2. अगला शब्द है क्रोध. इंसान जो हमेशा  क्रोधित रहता है और जीवन में कभी भी क्रोध के चलते हुए लोगो के साथ में झगडे आदि लेता है उसके कई सारे शत्रु बन जाते है और वो अशांत जीवन जीता है जो कि नरक के समान होता है.
  3. अगला है लोभ. आप लालच जितना करते है वो उतना ही अधिक बढ़ता चला जाता है इसलिए जरूरी है कि आप अपने लालच पर नियंत्रण रखे और जितना हो सके उतना इसे नियंत्रित करके रखे. अगर आप ऐसा करते है तो फिर आपको इससे फायदा होता है मगर नियंत्रित नही होते है तो जीते जी फिर आपको नरक देखना ही पड़ता है.