हनीमून मनाने विदेश गया था ये भारतीय जोड़ा, वहाँ एक गलती के कारण हो गयी 10 साल की सजा

0
13137

आज हम आपको जो खबर बताने जा रहे है उसे जानने के बाद में आप अपने रिश्तेदारों पर भरोसा करना थोड़ा सा कम कर देंगे क्योंकि मामला ही कुछ ऐसा है. एक भारतीय जोड़ा है जिसमें लडके का नाम है शरीक और लडकी का नाम है ओनिबा. ये दोनों की शादी अभी हाल ही में हुई थी और शादी के बाद में इनकी चाची तबस्सुम इनके पास में आयी और इनसे कहा कि ये लोग हनीमून मनाने के लिए क़तर चले जाए वो इनके लिए टिकट करवाएगी. ये कहकर के उनके लिए टिकट करवाया और साथ में एक पैकेट इनके बैग में रख दिया और कहा कि ये कुछ सामान है.

ये सामान क़तर में रहने वाले उनके जान पहचान वाले का है जब वो पहुँच जाए तो वहां पर उनको दे देना. उनके भरोसे पर उन्होंने वो रख भी लिया और फिर फ्लाइट में बैठकर के वो चले गये. इसके बाद में जब वो क़तर एयरपोर्ट पर पहुंचे तो चेकिंग के वक्त उनको हिरासत में ले लिया गया.

इसके बाद में पता चला कि उनके पास में उनकी चाची ने जो पैकेट दिया वो तो ड्रग्स है जो उनके साथ धोखे से भेज दी गयी थी. अब ये घटना जब सामने आयी तो क़तर में इनके उपर न सिर्फ एक करोड़ का जुर्माना लगाया है बल्कि इन दोनों को दस साल की सजा सुनायी गयी है और ये तब हुआ जब ओनिबा गर्भवती है. ऐसे में इनके घर वालो ने एनसीबी से मदद मांगी की वो इस पर कुछ करे क्योंकि उनकी चाची ने उनको फंसाया है.

इस पर एनसीबी ने केस दर्ज करके जांच की तो सभी आरोप लगभग सही ही पाए गये तबस्सुम यही काम करती है और उसके पास से कई ऐसी और चीजे भी पायी गयी है. अब भारत सरकार अपने राजनायिको के माध्यम से क़तर में संपर्क साध रही है ताकि इस भारतीय जोड़े की मदद की जा सके.