देर रात भाभी छुपकर जा रही थी बाहर, देवर ने किया पीछा तो खुल गया ऐसा राज

0
541

समय बीतने के साथ में अक्सर ही रिश्तो की गरिमा कम होती चली जा रही है और ये समस्या सिर्फ हमारे साथ में ही नही बल्कि बहुत से लोगो के साथ में हो रही है और लोगो का भरोसा अपनों पर से कम हो रहा है. अभी की बात अगर हम लोग करे तो ये पूरा मामला उत्तर प्रदेश के बरेली के पुनई गाँव का है. यहाँ पर रहने वाली महिला धर्मवती के पति सीताराम का पिछले वर्ष ही निधन हो गया था और जब उनका निधन हो गया तो फिर धर्मवती ने निर्णय किया कि वो अपने देवर के साथ में ही उसी घर में ही रहेगी.

देवर के साथ में वो कुछ समय तक तो ठीक से रही थी लेकिन बादमे उसने गाँव के एक और दुसरे युवक के साथ में नजदीकियां बढ़ा ली जो पहले तो छुपी रही लेकिन एक रात देवर ने भाभी का पीछा किया तो उसके सामने सारा का सारा सच आ गया.

देवर ने उसे समझाया कि उसके तीन बच्चे है उसे ऐसा कुछ करने से बचना चाहिए लेकिन महिला नही मानी और ऊपर देवर के एहसान भी थे कि वो उसका और उसके बच्चो के खर्च उठा रहा था लेकिन फिर भी वो उसकी नही सुनती थी. अब जब इस पर देवर और भाभी के बीच में बहस हुई तो फिर देवर ने अपनी भाभी के सर पर जोर का डंडा दे दिया और उससे उसकी जान चली गयी.

अभी पुलिस ने देवर को इस घटना के चलते हुए हिरासत में ले लिया है और सारे मामले की जांच की जा रही है. कही न कही यहाँ पर एक तरह से उसने गुस्से में ऐसा कर दिया लेकिन जो भी हुआ है उसे बदला तो नही जा सकता और इसमें एक औरत की जान चली गयी है तो फिर आगे पुलिस कोर्ट और क़ानून तो अपने हिसाब से ही काम करने जा रहा है.