बहुत दिनों तक किसान आन्दोलन चलने के बाद अब प्रधानमंत्री मोदी ने दिया ऐसा बयान

0
305

अभी देश भर में किसानो का प्रदर्शन चल रहा है और इसको लेकर के आपको हर जगह पर  एक तरफ इसका विरोध करने वाले तो दूसरी तरफ इसका सपोर्ट करने वाले लोग मिल ही जायेंगे और हर किसी की यहाँ पर अपनी अपनी दलीले है. किसी कुछ कहना है तो कोई कुछ कह रहा है मगर एक बात तो तय है कि एक अंतिम निर्णय तो देश के प्रधानमंत्री से ही आना है और उनके अभी आज के बयान जो उन्होंने भारत बंद से ठीक एक दिन पहले दिया है उससे सब मालूम चल जाता है कि अभी उनकी मंशा क्या है.

अभी हाल ही में उन्होंने अपनी तरफ से स्टेटमेंट जारी करते हुए कहा कि नयी सदी कभी भी पुराने क़ानूनो पर नही बन सकती है. कभी पिछली सदी में वो क़ानून अच्छे थे उस टाइम के लिए लेकिन अब नयी सदी में वही क़ानून बोझ बन चुके है. यहाँ पर उन्होंने यही प्रदर्शन वाले मामले की तरफ इशारा किया.

साथ ही साथ में पीएम मोदी ने ये भी कहा कि पहले टुकडो में और धीरे धीरे सुधार होते थे. अब ऐसा नही होता है अब प्रधानमंत्री मोदी वाकई में बड़े रिफोर्म करने में यकीन करते है और वो करते हुए नजर आते भी है जिसके चलते देश में तरक्की हो रही है. उनके स्टेटमेंट से कुछ ख़ास साफ़ तो नही लेकिन इतना अंदाजा जरुर लगाया जा सकता है कि वो अभी भी अपने कृषि कानूनों पर अडिग है.

अब ऐसे में आगे चलकर के कृषि संगठनों और बाकी राजनीतिक पार्टियों का स्टैंड क्या होता है ये देखने वाली ही बात होगी क्योंकि अभी तक तो कुछ भी साफ़ नही हो सका है मगर आने वाले समय में चीजे थोड़ी क्लियर होते हुए नजर जरुर आ सकती है और हम इस पर सरकारों का हस्तक्षेप होते हुए देखेंगे.