बड़ी खबर: रिजर्व बैंक ने इस बैंक का लाइसेंस रद्द किया, बैंक हो गया बंद

0
273

रिजर्व बैंक का काम होता है देश की अर्थव्यवस्था में जो भी चीजे चल रही है उनको ठीक तरीके से मेंटेन करना और कोई बैंक ठीक से परफॉर्म नही कर रहा है तो फिर उसको ट्रैक पर लाना. अगर ऐसा कोई नही कर पाता है तो फिर उसे बैंकिंग सिस्टम से अलविदा भी कर ही दिया जाता है जैसा कि अभी हाल ही में हुआ है और एक काफी बड़े बैंक जिसमे अच्छी खासी संख्या में खाते खुले हुए थे उसको हमेशा के लिए अब बंद कर दिया गया है.

अभी आरबीआई ने महाराष्ट्र में स्थित जनता सहकारी बैंक का लाइसेंस रद्द कर दिया है. यानी अब ये बैंक अब कोई भी बैंकिंग से जुड़े हुए काम जैसे धन लेना उसका भुगतान करना पुनर्भुगतान करना आदि जैसे काम नही कर सकेगा. हालांकि बैंक में जिन लोगो के पैसा जमा है उनको चिंता करने की जरूरत नही है.

रिजर्व बैंक ने साफ किया है कि जो भी लोग इस बैंक के डिपोजिटर लोग है उनको पूरा भुगतान कर दिया जाएगा. अभी के नियम के अनुसार अगर कोई बैंक डूब जाता है या फिर उसका लाइसेंस रद्द कर दिया जाता है तो फिर उसमे जमा 5 लाख रूपये तक की रकम सिक्योर्ड है यानी ये पैसा तो अगर बैंक में नही होगा तो भी दिया ही जाता है. वही इस बैंक में इतनी दिक्कत नही है तो अगर जिन ग्राहकों का जो पैसा है वो भी मिल ही जायेगा इतनी अधिक चिंता वाली बात नही है.

हाँ मगर जब इस तरह की घटनाएं होती है तो लोग कही न कही देश के बड़े नेशनल बैंक में ज्यादा भरोसा जताते है और उनमे खाता खुलवाने को प्रिफर करते है क्योंकि अभी बैंक बंद होने पर यहाँ पर आपकी सारी रकम सिक्योर नही होती है तो फिर रिस्क तो लोगो के ऊपर मन में रहता ही है और टेंशन अलग से आती है.