किसान आन्दोलन मामले में अब सामने आया सुप्रीम कोर्ट, बड़ी टिप्पणी के साथ किसान संगठनों को नोटिस भेजा

0
217

किसानो और सरकार के बीच में अभी हम देख रहे है कि किस तरह से लगातार टकराव चल रहा है और ये दिन ब दिन बढ़ ही रहा है और इस चक्कर में हम लोग ये भी देख रहे है कि देश की राजधानी दिल्ली में रास्ते ब्लाक हो रहे है. ये बात आज नही तो कल सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचनी ही थी और पहुँच भी गयी है. जी हाँ, ये मामला सुप्रीम कोर्ट चला गया है और इस पर अब अपने तरीके से मामला निपटाया जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट के पास दिल्ली वालो और किसानो दोनों की ही पिटीशन पहुँची थी.

इस पर पहले तो सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से सवाल किया कि अब तक इसका समाधान क्यों नही किया तो सरकार ने कहा कि हमने बातचीत की और कई चरणों में बातचीत चली है लेकिन अब तक इसका कोई भी हल नही निकल सका है.

वही दूसरी तरफ अब सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में सरकार से भी सही से मामले को हैंडल करने के लिए कहा है और जो किसान संगठन यहाँ पर प्रदर्शन कर रहे है उनको भी नोटिस भेजा है कि वो भी अपनी बात को रखे और शान्ति के साथ में मामले को हल करे. इस मामले में दूसरी पार्टी इन संगठनों को ही बनाया जा रहा है और साथ ही साथ में कोर्ट ने एक कमिटी बनाने का भी कहा है जिसमे किसान और सरकार दोनों के लोग हो और मामला जल्दी सुलझाया जाये.

सुप्रीम कोर्ट के अनुसार ये अब नेशनल लेवल का मामला बन चुका है और इसको जल्द से जल्द ठीक करना बहुत ही ज्यादा जरूरी हो गया है क्योंकि अगर ऐसा नही किया जाता है तो फिर आगे चलकर के ये काफी ज्यादा दिक्कत भी पैदा कर सकता है. हालांकि सरकार इस मामले में कोई भी एक कदम पीछे हटने के मूड में नजर नही आ रही है.