मिस इंडिया रनर अप बन गयी रिक्शा चालक की बेटी, जीतने पर बोल दी दिल जीतने वाली बात

0
848

अभी आपको मालूम हो तो मान्या सिंह ने मिस इंडिया फेमिना का आयोजन हुआ था जिसे दुनिया भर के लोगो ने और ख़ास तौर पर भारत वालो ने तो देखा ही था क्योंकि ये अपने आप में बहुत ही गजब होता है जहाँ पर देश की सबसे सुंदर लडकियों को चुना जाता है. इस बार की बात करे तो इस बार मानसा वाराणसी इसमें पहले नम्बर पर आयी है लेकिन हम लोग अभी पहले नम्बर वाली लडकी की बात नही कर रहे है बल्कि दुसरे नम्बर वाली की यानी मानसा वाराणसी की बात कर रहे है.

वो अभी खबरों में इसलिए है क्योंकि मानसा दुसरे नम्बर पर आयी है और वो किसी अमीर या फिर मिडल क्लास परिवार से नही बल्कि एक गरीब परिवार से है. मान्या सिंह कुशीनगर से आती है और उसके पिता महज एक रिक्शा चालक ही है जो उसी से ही अपना काम गुजारा चलाते है.

मान्या सिंह कहती है कि उसकी माँ ने उसे पढ़ाने के लिए अपने गहने तक गिरवी रख दिए और पिता ने उनको पालने के लिए रिक्शा चलाई और खूब मेहनत की. कई बार ऐसा भी होता था कि हमारे पास में खाने को कुछ नही होता था, तो हम भूखे सोते थे. इस तरह की स्थिति भी उनके बीच में आयी लेकिन कही न कही अभी हम इससे हटकर के भी कुछ बात कर रहे है जिस पर ध्यान शायद किसी का गया नही है कि इसे आम् तौर पर अमीरों की जगह माना जाता था लेकिन मान्या ने इस जगह पर आकर के बता दिया कि हम किसी से भी कम नही है.

खैर अब तो उसे हर तरफ से तारीफ़ भी मिल रही है और लोग ये भी कह रहे है कि वाकई में ये एक अच्छा कदम है जो वो उठायी है और इस कारण से उसके पूरे परिवार की स्थिति ही सुधर जायेगी जो एक अच्छी बात होगी.