माँ बाप का ख्याल नही रखा तो कटेगी अब तनख्वाह, जानिये कहाँ और क्या कहता है ये नियम

0
557

बड़े बुजुर्ग लोगो की एक शिकायत हमेशा से ही रहती है कि हमने तो अपने बच्चो को बड़ी ही मेहनत के साथ में पाल पोसकर के बड़ा किया लेकिन जब बच्चे बड़े हो गये तो फिर उन्होंने हमें पूछना ही बंद कर दिया. ये समस्या किसी एक की नही बल्कि बहुत से लोगो की है जो इस तरह की दिक्कत से होकर के गुजर रहे है और उनके लिए जाहिर तौर पर ये समस्या तो कई लोगो के लिए बन ही रही है, ऐसे में एक शहर की तरफ से ऐसे लोगो को सबक सिखाने के लिए बड़ा कदम उठाया गया है जिसकी कई लोग तारीफ़ कर रहे है.

ये पूरा मामला लातूर जिले का है जहाँ की जिला परिषद् को कई लोगो से ये शिकायते मिल रही थी कि उनके ही कर्मचारी अपने माता पिता का ख्याल नही रख रहे बुढापे में उनको परेशान कर रहे है. इस पर उन्होंने अभी तक कुल 12 ऐसे लोगो की पहचान की है जो ऐसा कर रहे है.

अभी इनको सजा के रूप में इनकी कुल 30 प्रतिशत तनख्वाह काटी जा रही है. यानी जो लोग भी अपने माता पिता का ध्यान नही रख रहे है उनकी कुल तीस प्रतिशत तनख्वाह लातूर जिला परिषद् पहले ही काट रही है और ये आंकड़ा लोगो का और भी ज्यादा बढेगा क्योंकि लोग अक्सर अपने माँ बाप को बिलकुल ही अलग कर देते है और वो अकेले रह जाते है उनकी कोई सुनने वाला नही है.

इस पूरे मामलों को देखकर के कई सारे ऐसे लोग अलग अलग शहरो से और भी है जो कह रहे है वहां पर भी उनके यहाँ पर भी ये नियम लागू किया जाना चाहिए ताकि जब बच्चे बड़े हो जाए तो वो ये न सोचे कि उनका अपने माता पिता से पीछा छूट चुका है और उनको अब किसी तरह की चिंता की जरूरत ही नही है.