जापान में बड़ा काण्ड हो गया, प्रधानमंत्री को खड़े होकर हाथ जोड़कर मांगनी पड़ी माफ़ी

0
143

आज के लोकतांत्रिक व्यवस्था के नजरिये से अगर हम लोग बात करते है तो सबसे ज्यादा ताकतवर कौन होता है? आप खुद भी सोच रहे होंगे कि कौन ही होता होगा? बात तो ठीक भी है और कही न कही ये बात हर जगह पर लागू होती भी है लेकिन क्या आप पूरा सच जानते है? अगर नही जानते है तो फिर जरा रूक जाइए क्योंकि हम यहाँ पर आपको एक ऐसा केस बताने जा रहे है जहाँ पर खुद जापान के प्रधानमंत्री घिर गये है और उनको बाकायदा खुद से ही माफ़ी भी मांगनी पड़ी है.

ये मामला है योशीहिदे सुगा से जुड़ा हुआ जिनके बेटे ने एक बड़ी गलती कर दी थी. उनके बेटे है और उनके बेटे जो कि पेशे से एक प्रोड्यूसर है उन्होंने एक ब्यूरोक्रेट को अपने घर पर बुलाया और उसे पार्टी दी. ब्यूरोक्रेट यानी भारत में जो आईएएस ऑफिसर होते है ये जापान में उसी के समकक्ष अधिकारी की बात हो रही है.

दरअसल उनके बेटे ने गलती ये कर दी कि उस पार्टी में अच्छा खासा लगभग 51 हजार रूपये का अमाउंट खर्च कर दिया और जापान के कानून के अनुसार किसी भी सरकारी अधिकारी को गिफ्ट देना या उनका कोई फायदा करवाना गलत है. ये बात बाहर आते ही लोग उनको कोसने लगे और तो और मामला काफी ज्यादा आगे बढ़ गया जिसके बाद में उस ब्यूरोक्रेट लेडी को तो इस्तीफा तक देना पड़ा.

जब बात इतनी ज्यादा बढ़ ही गयी तो फिर खुद जापान के प्रधानमंत्री को सामने आना पड़ा और उन्होंने अपने बेटे द्वारा की गयी गलती के लिए सबके सामने खड़े होकर के माफ़ी मांगी. भारत में ऐसे केस कई देखने में आते रहे है लेकिन ये अधिक तवज्जो नही दिए जाते है लेकिन बात करे जापान की तो वहां पर ये सब चीजे नही चल सकती है और ये सच है.