3 फीट के इस आदमी की नही हो रही थी शादी, पुलिस स्टेशन जाकर कर दी ऐसी अजीब डिमांड

0
64

आज कल के ज़माने में हर कोई अपनी मन-मुताबिक लड़की को पसंद करके उससे शादी करता है. ऐसे में वह हर चीज़ की तुलना करता है. लेकिन क्या आप जानते है कि कुछ लोगों की हाईट की वजह से शादी में रूकावट आ जाती है. ऐसे लोगो को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. तो हम आज ऐसे ही एक मामले के बारे में बताने जा रहे है जिसमे एक छोटे कद वाला आदमी अपनी सारी कोशिशों के बाद जब थक जाता है तो वह पुलिस स्टेशन के दरवाजे खटखटाता है और शादी करवाने की मांग करता है. तो आइये जानते है पूरे मामले के बारे में:

3 फीट के इस आदमी ने पुलिस से की शादी करवाने की मांग

दरअसल बीते शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के शामली जिले के कैराना नगर का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमे एक छोटी कद वाला सख्स अपनी शादी की समस्या की वजह से पुलिस स्टेशन चला जाता है. 26 वर्षीय अजीम मंसूरी नाम का यह सख्स अपनी शादी को लेकर बहुत ही ज्यादा परेशान है, जिसकी हाईट लगभग 3 फीट है. इस वजह से वह एक महिला पुलिस स्टेशन पर रिपोर्ट दर्ज करवाने आ पहुंचता है.

वहा पर मौजूद अधिकारीयों को वह बताता है कि शामली शहर के एक मोहल्ले में उसे अपनी शादी के लिए एक लड़की पसंद आ गई है. खास बात यह है कि उस लड़की की हाईट भी उससे मिलती-जुलती है. उसने उस लड़की से मिलकर सारी बात कर ली है. जब दोनों के परिवार वालों ने आपस में बात की तो यह रिश्ता लगभग तय होने को था, लेकिन बाद में लड़की के परिवार वालों ने उसकी हाईट लड़की की हाईट से कम बताकर इस रिश्ते से इनकार कर दिया था. पुलिस को अपनी यह कहानी बताते हुए वह रो पड़ता है और पुलिस से शादी करवाने की मांग करता है.

सम्पूर्ण मामले पर पुलिस की रिपोर्ट

जब थाने में आये अजीम मंसूरी नाम के इस सख्स की पूरी कहानी पुलिस सुनती है, तो वह इस मामले की जड़ तक पहुंचती है. अपनी रिपोर्ट में पुलिस ने बताया कि पुलिस स्टेशन में उनके द्वारा यह दूसरा मामला दर्ज करवाया गया है. अजीम ने अपनी पिछली माँ-बाप के खिलाफ लिखवाई थी, जिसमे उन्होंने अपने माँ-बाप पर आरोप लगाया था कि उनकी उम्र बढ़ने के बाद भी वह शादी नहीं करवा रहे है.
पुलिस ने कहा कि ऐसे कई मामले उनके सामने आते रहते है, लेकिन यह मामला थोड़ा अलग था. शादी दो परिवारों कोई आपसी सहमती और लड़का-लड़की की पसंद के आधार पर की जाती है. इसमे पुलिस के लिए कोई भी फैसला लेना उचित नहीं होता है.