एक औरत के शरीर का कौनसा भाग सबसे अधिक पवित्र होता है, जानिये

0
819

हर महिला अपने आप में गुणों की खान होती है और पुरुष भी इस पर अपने अपने तरीके से जीवन को व्यतीत करते है. फिर आखिर जीने के लिए हर किसी को एक साथी की जरूरत तो होती ही है और ये बात हम लोग भी जानते है. खैर अब जो भी है अगर हम लोग बात करते है अभी की तो हाल ही में एक बात को लेकर के चर्चाएँ काफी अधिक हो रही है और वो सवाल ये है कि एक औरत के शरीर का कौनसा भाग या फिर कौनसा अंग सबसे अधिक पवित्र होता है? धर्म में भी इसके बारे में कहा गया है तो चलिए फिर आपको इसकी जानकारी दे देते है.

अगर हम बात करे एक औरत जब माँ के रूप में होती है तो उस औरत के चरण सबसे अधिक पवित्र होते है. माँ के चरणों की तुलना मोक्षधाम से की जाती है, यानी जब आप एक स्त्री से औरत के रूप में मिलते है तो उसके चरण सबसे अधिक पवित्र होते है.

वही बात करे जब आप एक स्त्री से पत्नी के रूप में मिलते है तो उसकी कलाई और हथेली सबसे अधिक पवित्र मानी जाती है, इसलिए पति और पत्नी जब एक दुसरे से विवाह करते है और रस्मे निभाते है तो भी दोनों एक दुसरे के हाथ ही थामते है. इस कारण से जब आप कभी भी स्त्री से पत्नी के रूप में मिलते है तो उसका हाथ एक तरह से सबसे अधिक पवित्र माना गया है.

फिर बात आती है बेटी के रूप में तो एक बेटी का सर यानी माथा पिता के लिए सबसे अधिक पवित्र होती है. एक पिता जब अपनी बेटी के सर पर आशीर्वाद के रूप में हाथ रखता है तो वो अपने लिए भी कई सारे पूण्य एक साथ में प्राप्त कर रहा होता है और बेटी भी इससे आनंदित अनुभव करती है.