दोस्त को बचाने के लिये अपनी जान पर रिस्क लिया, 1400 किलोमीटर दूर से ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर पहुंचा

0
303

वैसे तो इंसान की जिन्दगी में कई रिश्ते होते है और हर रिश्ते की अपनी अहमियत भी होती है इस बात में कोई भी शक नही है, लेकिन जब बात आती है कि आप उस रिश्ते से हासिल क्या कर रहे है? तो फिर अपने आप में चीजे थोड़ी अलग टाइप की लगने लगती है. अगर हम लोग बात करते है अभी की तो हाल ही में एक दोस्त ने अपने दोस्ती के नाम पर जो किया है वो दुनिया भर के लिए एक तरह से मिसाल बन चुकी है और हर कोई उनसे सीख लेने की बात भी कह रहा है.

ये पूरी घटना शुरू होती है बोकारो से और गाजियाबाद शहर तक जाकर के समाप्त हो जाती है. बोकारो में रहने वाले देवेन्द्र कुमार शर्मा को अचानक से एक खबर मिलती है कि उनके दोस्त को करोना हो गया है जिसका नाम रंजन है और अभी उसे ऑक्सीजन की बड़ी ही सख्त जरूरत है.

अब एनसीआर में ऑक्सीजन की कितनी भारी कमी हो रखी है ये तो हर कोई जान ही रहा है, ऐसे में देवेन्द्र कुमार शर्मा ने बिना कोई देरी किये तुरंत ऑक्सीजन सिलेंडर उठाया और बोकारो से ही चल दिए, व्हीकल की मदद से 1400 किलोमीटर का सफ़र करते हुए जल्दी से जल्दी वो न सिर्फ गाजियाबाद पहुँच गये बल्कि तुरंत उसे ऑक्सीजन भी उपलब्ध करवा ही दिया. इस कारण से उसकी जान बच गयी और अभी के लिए वो पूरी तरह से सुरक्षित है.

कही न कही एक दोस्त जिसने अपनी जान पर रिस्क लिया और इस संक्रमण में दोस्त के लिए सिलेंडर लेकर के पहुंचा आज उसके कारण से ये सब कुछ हो पाया है. अगर इस तरह से हर कोई करने लग जाए तो ये अपने आप में बहुत ही बड़ी बात होगी और लोगो की अधिक से अधिक जान भी बच पाएगी. खैर जो भी है चीजे तो होती ही है.