इस खाद से बंजर पड़ी जमीन में भी लहलहाने लगेगी फसल, रायपुर के युवा ने बनाया जैविक खाद ‘जमीन का अमृत’

0
61

दिन-प्रतिदिन तकनीक का विकास हो रहा है।‌ पहले लोग पारम्परिक खेती किया करते थे लेकिन अब इसमें बहुत बदलाव हो चुके हैं। अब किसान बंजर पड़ी जमीन में भी उर्वरक का उपयोग कर सोना उगा रहे हैं।- young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

छत्तीसगढ़ (Chhatisgarh) से ताल्लुक रखने वाले युवा किसान योगेश कुमार सोनकर (Yogesh Kumar Sonkar) ने एक ऐसे उर्वरक का निर्माण किया है, जिससे बंजर पड़ी जमीन पर भी अच्छा उत्पादन कर अधिक लाभ कमाया जा सकता है।- young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

400 रुपए प्रति किलोग्राम बिकता है उर्वरक

उर्वरक का निर्माण कोशिकारस तथा सूक्ष्म पोषक तत्व के उपयोग द्वारा हुआ है। उस उर्वरक का नाम एलिक्सिर है, जिसका अर्थ “जमीन का अमृत” होता है। इस उर्वरक में समुद्री घास, गोबर के रस और अन्य प्रकार के सूक्ष्म तत्वों को मिलाया गया है। यह अपने वजन के अनुसार लगभग 200 से 300 गुना अधिक पानी अवशोषित करता है। यह उर्वरक लगभग 400 रुपए प्रति किलोग्राम के हिसाब से बिकता है। अगर आपके पास एक हेक्टेयर जमीन है, तो आप अपने खेत में 3-4 किलोग्राम उर्वरक का छिड़काव कर फसल का अधिक उत्पादन कर सकते हैं।- young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

किस तरह हुई शुरुआत?

योगेश ने जानकारी दी कि विश्व बैंक के एक रिपोर्ट से जानकारी मिली थी कि बारिश ना होने और पानी की किल्लत के कारण खेतों में फसलों का सही से उत्पादन नहीं हो रहा है, जिस कारण किसान आत्महत्या कर रहे हैं। उसके बाद ही उन्होंने वर्ष 2016 में इसके निदान के लिए कार्य प्रारंभ किया था। उन्होंने चीन और जर्मनी जैसे बड़े-बड़े देशों के रिसर्च पेपरों को पढ़ा और लगातार तीन साल मेहनत करने के उपरांत इस उर्वरक का उपयोग किया।- young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

मिले कई सम्मान

योगेश का चयन “इंदिरा गांधी कृषि विवि ने केंद्र सरकार की राष्ट्रीय कृषि विकास योजना” द्वारा हुआ था। योगेश को केंद्र सरकार द्वारा 12 लाख रुपए प्राप्त हुए। इतना ही नहीं उन्हें नेशनल स्टार्टअप प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त भी किया। वर्ष 2019 में उनके उत्पाद को इंटरनेशनल लेवल पर लॉन्च किया गया। इसके साथ ही उन्होंने अपने आसपास की महिलाओं को रोजगार भी दिया है।

जब उनके उत्पादों को इंटरनेशनल लेवल पर पहचान मिल गई, तब उनके उत्पाद को अनेक कंपनियों ने खरीदने की इच्छा जताई। अब वे 14 तरह की खाद बनाते हैं। वहीं अब उनकी कंपनी का वार्षिक टर्नओवर लगभग दो करोड़ पहुंच चुका है। उन्होंने लगातार तीन महीने तक बंजर जमीन में अपने उर्वरक को डाल उसे उपजाऊ जमीन में तब्दील कर दिया है।

young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer

वहीं इंदिरा गांधी कृषि विवि रायपुर के एग्री बिजनेस इन्क्यूबेशन सेंटर में कृषि विज्ञानी एवं सीईओ डॉ. हुलास पाठक का कहना है कि एलिक्सिर द्वारा बंजर जमीन को हरा-भरा किया जा सकता है। – young entrepreneur Yogesh Kumar Sonkar from Raipur makes Organic Fertilizer