आर्थिक तंगी से जूझ रहें हैं सीरियल जोधा-अकबर के यह कलाकार, बीमारी की वजह से काटना पड़ा एक पैर

0
68

कोरोना महामारी में आर्थिक तंगी के बहुत सारे मामले सामने आ रहे हैं। प्रोड्कशन हाउस कम से कम लोगों की टीम के साथ काम कर रही है। इसकी वजह से एक्टर्स को काम मिलना बंद हो गया है। इसी कारण से कई एक्टर्स को बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसा ही कुछ जोधा अकबर फेम एक्टर लोकेंद्र सिंह के साथ हुआ है। कोरोना काल में उन्हें काम की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। स्ट्रेस लेने की वजह से उनका डायबिटीज लेवल बढ़ता चला गया। इसी कारण लोकेंद्र को डायबिटीज की वजह से अपना एक पैर गंवाना पड़ा है।

उन्होंने अपनी रिकवरी को लेकर इंस्टाग्राम पर पोस्ट साझा किया था। लोकेन्द्र लिखते हैं ‘रिकवरी एक प्रक्रिया है, यह समय लेती है। इसमें धैर्य चाहिए, यह सब कुछ ले लेती ह जो आपके पास है। बेड रेस्ट बहुत ही बोरियत भरा है।

बीमारी को किया था नजरअंदाज
5 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने उनके एक पैर को शरीर से अलग कर दिया। एक इंटरव्यू में लोकेंद्र बताते हैं कि हाई स्ट्रेस लेवेल ने उनके ब्लड शुगर को खतरनाक स्तर तक बढ़ा दिया था जिसकी वजह से उनका पैर काटना पड़ा। लोकेंद्र ने बताया कि इसकी शुरुआत तब हुई जब उनके दाहिने पैर में दिक्कतें होनी शुरू हुईं। उन्होंने इसे नजरअंदाज कर दिया। इसके बाद वह इंफेक्शन फैलता चला गया। उन्हें गैंग्रीन हो गया था। खुद को बचाने का एक ही तरीका था कि घुटने तक उनके पैर काट दिए जाएं।

काम न मिलने के कारण थे चिंतित

लोकेंद्र ने बताया कि महामारी की वजह से उन्हें काम करने का मौका बहुत कम मिल रहा था और आर्थिक तनाव भी था. उन्होंने कहा कि मैं कोविड से पहले बहुत अच्छा काम कर रहा था लेकिन महामारी में काम बहुत कम होता चला गया और मुझ पर आर्थिक तनाव भी होने लगा था. मुझे सिंटा से आर्थिक मदद मिली. एक्टर्स मुझे मोटिवेट करने और मेरी तबीयत का पूछने के लिए कॉल करते थे.