जानिए ‘ओलिंपिक गोल्डन बॉय’ की संपत्ति के बारे में, मिल चुके हैं अब तक करोड़ों के रिवार्ड्स

0
45

भारत के गोल्डन आर्म बॉय नीरज चोपड़ा आज कल चर्चा में बने हुए है। देश भर में उन्हें मोस्ट एलिजिबल बैचलर के नाम का भी टैग मिल चूका है। नीरज वो ऐथलीट हैं जिन्होंने टोक्यो ओलिंपिक 2020 ] में जैवलिन थ्रो यानि भला भाला फेंक में भारत को 130 साल बाद गोल्ड मैडल दिलाया है। नीरज चोपड़ा को 2018 एशियाई खेलों के लिए भारत की तरफ से हाथ में तिरंगा लेकर प्रतिनिधित्व के लिए भी चुना गया था। नीरज चोपड़ा ने 88.7 मीटर भाला फेंक कर एक नया रिकॉर्ड बना दिया है। आपको बता दें भारत ने पिछली बार 1900 में एथलेटिक्स में स्वर्ण पदक जीता था।

तो चलिए आज आपको बताते हैं, देश के इस एलिजिबल बैचलर की सम्पति के बारे में। नीरज की अनुमानित कुल संपत्ति लगभग 1-3 मिलियन डॉलर है। नीरज की आय का मुख्य स्रोत जैवलिन थ्रो है, यानि भाला फेंकने वाले के रूप में उनका करियर सफल है। इसके अलावा, उन्हें JSW स्पोर्ट्स एंड स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया से समर्थन भी मिलता है, जिसने उनके उज्जवल भविष्य में काफी मदद की है। उन्होंने साल 2020 में COVID-19 महामारी के लिए PM केयर्स फंड में 2 लाख रूपए तक का दान दिया था।

नीरज न केवल सीनियर स्तर पर राष्ट्रमंडल और एशियाई चैंपियन हैं, बल्कि उन्होंने जूनियर सर्किट में भी काफी नाम कमाया है। नीरज वर्ष 2016 के विश्व U20 चैंपियन थे और उन्होंने 86.48 मीटर का विश्व अंडर-20 रिकॉर्ड भी बनाया था और यह रिकॉर्ड अब भी बरक़रार है। इसके अलावा, वह अंडर -20 श्रेणी में इकलौते भारतीय एथेलीट हैं जिन्होंने ट्रैक और फील्ड में विश्व खिताब जीता है।

आपको बता दें नीरज चोपड़ा हरियाणा के पानीपत जिले के खंडरा गांव से हैं और रोर (क्षत्रिय) समुदाय से तालुक रखते हैं। उनकी शिक्षा डीएवी कॉलेज, चंडीगढ़ से हुई। 2016 में, उन्हें नायब सूबेदार के पद के साथ भारतीय सेना में एक जूनियर कमीशंड अधिकारी नियुक्त किया गया था।