105 कमरों वाला श्रापग्रस्त होटल जहां नहीं ठहरता कोई भी इंसान

0
147

दुनिया में कई तरह की अजीबोगरीब भूतिया और शापित चीजें होंगी। दुनिया के अलग अलग देशो से नई नई कहानियों का पता आये दिन चलते रहता है। ऐसे में उत्तर कोरिया में मौजूद होटल उन्हीं में से एक है. जी हां, उत्तर कोरिया में एक ऐसा होटल है, जिसे लोग शापित और भूतिया मानते हैं।

इस होटल का नाम रयुगयोंग है, स्थानीय लोग इसे यू-क्यूंग के नाम से भी जानते हैं। होटल पिरामिड जैसे आकार का हैऔर नुकीले सिरे वाली गगनचुंबी इमारत के रूप में बनाया गया है। मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि कोई भी व्यक्ति आज तक इस होटल में नहीं रुका है।

उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयोंग में 330 मीटर ऊंचे इस होटल में कुल 105 मंजिल है। इसके पीछे की कहानी है कि इस होटल को बनाने का काम साल 1987 में शुरू हुआ था। इसको बनाने के लिए दो साल का लक्ष्य तय किया गया था। पर ये कभी पूरा बन ही नहीं पाया। और तब से लोग इसे शापित कहने लगे।

इसके बनाने में लगभग 55 अरब रुपये से अधिक खर्च हो चुके हैं। पर ये शुरू तो होना दूर, बन भी नहीं पाया। पूरी दुनिया अब इस होटल को धरती की सबसे ऊंची वीरान इमारत के तौर पर जानती है। यही कारण है कि गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी इसे जगह दी गई है। आपको बता दें इस होटल के 105 बिल्डिंग के नाम से भी जाना जाता है।

CNN द्वारा साझा की गई रिपोर्ट में पता चलता है कि 105 मंजिल की इस इमारत के भीतर कई मंजिलों पर कोई निर्माण ही नहीं हुआ।2012 में बीजिंग के एक कर्मचारी द्वारा ली गई होटल के भीतर की तस्वीरों से इसका खुलासा हुआ था। इसके शापित होने की अटकलें साल2018 से ज्यादा तेज़ हुईं थीं। दरअसल, साल2018 में इस होटल में लेज़र शो ऑर्गनाइज़ किया गया था। इस शो के बाद सबकी लगा था कि होटल शूरु हो जाएगा, पर यह अभी तक विरान पड़ा है और लोग उसे शापित मानते हैं।