इसको खाने से आप मर भी सकते हैं, यह है दुनिया की सबसे तीखी मिर्ची

0
61

भारत में ही मिर्चियों की कई सारी प्रजातियां मौजूद हैं। तो सोचिये दुनिया भर में मिर्चियों के कितने प्रकार होंगे। अब ऐसे तो तीखा होना मिर्ची की स्वाभाव में है पर कुछ ऐसी मिर्चियाँ भी हैं जो बिलकुल भी तीखी नहीं होती, वहीं कुछ ऐसी भी होती है जिनका बीएस एक टुकड़ा मात्रा चख लेने से पसीने छूट जाते हैं। तो क्या आपने कभी ऐसे मिर्ची के बारे में सुना है जो दुनिया भर में सबसे तीखी हो ? क्या आपको उसका नाम पता है ? तमाम अन्य प्रजातियों के बीच एक है कैरोलीना रीपर, जिसके खेती अमेरिका में होती है और इसे दुनिया की सबसे तीखी मिर्ची कहते हैं।

कैरोलीना रीपर कुछ हद्द तक शिमला मिर्च जैसी दिखती पर इस वर्ल्ड स्पीसिएस्ट मिर्ची का नाम ‘दुनिया की सबसे तीखी मिर्च’ के तौर पर गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, अभी तक इससे ज्यादा तीखी मिर्च दुनिया भर में कभी कहीं नहीं हुई। दक्षिणी कैरोलीना की विनथ्रॉप यूनिवर्सिटी ने इस मिर्च के तीखेपन की जांच साल 2012 में की थी, जिसमें 15,69,300 एसएचयू यानि स्कोवील हीट यूनिट पाई गई थी।

आपको बता दें किसी भी चीज के तीखेपन को नापने के लिए एसएचयू का ही प्रयोग किया जाता है। एसएचयू जितना ज्यादा होता है, तीखापन भी उतना ही खतरनाक होता है। वैसे किसी आम मिर्च का एसएचयू 5000 के करीब होता है, लेकिन इस मिर्च का एसएचयू इतना ज्यादा है कि, शायद ही आप उसे खा पाएं।

साल 2018 में अमेरिका के न्यूयॉर्क में यह देखने को मिला था की ‘कैरोलाीना रीपर’ नामक मिर्च को खाना कितना खतरनाक हो सकता है। उस वर्ष एक 34 वर्षीय व्यक्ति ने मिर्च खाने की प्रतियोगिता में हिस्सा लिया और उसने कैरोलीना रीपर इतनी ज्यादा खा ली थी कि उसके सिर में तेज दर्द होने लगा था, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था।

‘कैरोलीना रीपर’ के पहले भारत की ‘भूत जोलकिया’ को दुनिया की सबसे तीखी मिर्च माना जाता था। ‘भूत जोलकिया’ को साल 2007 में गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया था। सामान्य मिर्च की तुलना में इसमें 400 गुना ज्यादा तीखापन होता है। इसकी खेती असम, नगालैंड और मणिपुर जैसे राज्यों में होती है।