UPSC क्लियर करने के बाद कितना वेतन और क्या क्या सुविधाएँ मिलतीं हैं नियुक्त अफसर को, जाने इस रिपोर्ट में

0
141

सिविल सर्विसेज की हर साल लाखों उम्मीदवार तैयारी करते हैं। देश के कई उमीदवार का यही सपना होता है वो UPSC एग्जाम को निकालकर IAS अधिकारी बने और देश की सेवा करें। हालांकि, परीक्षा पास करने के बाद उन्हें सरकार द्वारा कुछ सुविधाएं मिलती हैं, वह अपनी ज़िम्मेदारियों को अच्छे से निभा सकें। तो आइये आपको बताते हैं आईएएस अधिकारी को मिलने वाले वेतन और अन्य सुविधाओं के बारे में।

इन विभागों में काम करते हैं अधिकारी

परीक्षा क़्वालीफी कर जो उमीदवार आईएएस अधिकारी बनता है उसे भारतीय प्रशासनिक सेवा के माध्यम से नौकरशाही में काम करने का चांस मिलता है। इसके साथ ही उनकी नियुक्ति विभिन्न मंत्रालयों, प्रशासन के विभागों में भी होती है। आपको बता दें एक अधिकारी का सबसे बड़ा पद कैबिनेट सेक्रेटरी के तौर पर होता है।

अधिकारियों का वेतन

अगर आईएएस अधिकारी के वेतन की बात करें तो 7th CPC के मुताबिक एक अधिकारी को 56,100 रुपए का मूल वेतन मिलता है। जैसे-जैसे इनका प्रमोशन होता है, वैसे ही सैलरी भी बढ़ती रहती है। यदि कोई IAS अधिकारी कैबिनेट सचिव के पद पर पहुंचता है तो उसे 2,50,000 रुपए महीने तक का वेतन मिलता है। IAS सैलरी स्ट्रक्चर को 8 ग्रेड में Divide किया गया है. इसके अनुसार उसे एक फिक्स्ड बेसिक पे और ग्रेड पे मिलता है। इतना ही नहीं आईएएस अधिकारी को वेतन और ग्रेड पे के साथ साथ डियरनेस अलाउंस, हाउस रेंट अलाउंस, मेडिकल अलाउंस और कन्वेंस अलाउंस भी सरकार की तरफ से मिलता है।

आईएएस अधिकारियों को न्यूनतम किराए पर क्वार्टर (घर) भी मिलते हैं। साथ ही कुक, गार्डनर, सुरक्षा गार्ड और अन्य घरेलू सहायता जैसे अन्य सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं। इन अधिकारियों को मुफ्त में या फिर अधिक सब्सिडी पर बिजली और टेलिफोनिक सेवाएं मिलती हैं। इसके अलावा पोस्टिंग के दौरान किसी अफसर को कहीं जाना पड़े तो वहां भी उन्हें सरकारी घर दिया जाता है। आने जाने के लिए कम से कम 1 और अधिकतम 3 आधिकारिक वाहन और साथ ही ड्राइवर भी मिलते हैं।