शारदीय नवरात्रि पर बन रहे इस साल कुछ दुर्लभ संयोग, ये लोग गलती से भी व्रत ना रखें

0
28

शारदीय नवरात्रि का प्रारंभ हो रहा है, 7 अक्‍टूबर से पावन दिन शुरू हो रहे हैं । इस वर्ष ये त्‍यौहार दर्लभ संयोग के साथ आ रहा है । जानें विस्‍तार से ।

New Delhi, Oct 05: गुरुवार, 7 अक्टूबर 2021 से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो रहे हैं । इस वर्ष एक ही दिन में दो तिथियां पड़ने से शारदीय नवरात्रि 8 दिन तक रहेंगे, 9 अक्टूबर दिन शनिवार को तृतीया सुबह 7 बजकर 48 मिनट तक रहेगी, इसके बाद चतुर्थी शुरू हो जाएगी, जो अगले दिन 10 अक्टूबर दिन रविवार को सुबह 5 बजे तक रहेगी ।  इस वर्ष मां के पूजन की शुरुआत गुरुवार के दिन से हो रही है, इस वजह से मां की वारी डोली बताई जा रही है । जानकारों के अनुसार नवरात्रि की शुरुआत चित्रा नक्षत्र में हो रही है, जिससे साधाना, साहस और संतोष प्राप्त होगा।

मुहूर्त एवं संयोग
7 अक्टूबर 2021 दिन गुरुवार को कलश स्थापना होगी, कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजकर 17 मिनट से लेकर सुबह 07 बजकर 07 मिनट तक रहेगा । इस बार के नवरात्रि खास माने जा रहे हैं, वजह है नवरात्रि में पांच रवियोग के साथ सौभाग्य योग और वैधृति योग का बनना । इस दुर्लभ संयोग में नवरात्रि के दिनों में नए कार्यों की शुरुआत करने, नया घर या वाहन खरीदना शुभ रहेगा । इतना ही नहीं फर्नीचर आदि खरीदने के लिए भी ये समय बहुत ही शुभ रहेगा ।

ये लोग ना रखें व्रत
वैसे तो नवरात्र के व्रत कोई भी रख सकता है, लेकिन कुछ लोगों को व्रत ना रखने की सलाह दी जाती हैं । कौन हैं वो लोग आगे पढ़ें ।
गर्भवती महिलाएं
वो महिलाएं जो गर्भवती हैं उन्‍हें इस व्रत का पालन नहीं करना चाहिए । गर्भ धारण के दौरान व्रतरखना आपके शिशु के लिए मुसीबत पैदा कर सकता है । आपका कुछ ना खाना आपको कमजोर कर सकता है और आपको अस्‍पताल जाने की नौबत भी आ सकती है । इसलिए अगर आप गर्भवती हैं तो व्रत फिलहाल ना ही रखें ।

मधुमेह के रोगी
वो लोग जो डायबिटीज के शिकार हैं उन्‍हें भी व्रत नहीं रखना चाहिए । अगर आप व्रत रख रहे हों तो डॉक्‍टर की मदद से एक डायट चार्ट बनवा लें । आपको नमक, शुगर ज्‍यादा नहीं लेना है साथ आलू भी नहीं खाना है । डायबिटीज के पेशेंट्स को यूं भी हर दो घंटे कुछ खाने की सलाह दी जाती है ऐसे में व्रत रखने पर उनकी मुसीबत बढ़ सकती है ।
सर्जरी वाले मरीज या बीमार मरीज
ऐसे लोग जिनकी अभी सर्जरी हुई है या फिर ऐसे लोग जो बीमार रहते हैं । ऐसे लोगों को डॉक्‍टर से सलाह लेकर ही उपवास करने चाहिए । नवरात्रि के व्रत 8 दिन के होते हैं ऐसे में इतने दिन तक बैलेंस डायट को छोड़ना व्‍याक्ति के लिए नुकसानदायक हो सकता है । अगर आप बीपी के मरीज हैं तो भी डॉक्‍टर से सलाह लेकर ही व्रत करें ।