मुंबई का मछुआरा रातों रात बना करोड़पति, 1.33 करोड़ में बिकी ‘सोने के दिल’ वाली मछलियां

0
385

मछली खाना काफी लोगों को पसंद होता है और समंदर किनारे पर जो शहर हैं वहां के लोग काफी ज्यादा मछली खाना पसंद करते हैं. वैसे जो लोग समंदर में मछली पकड़ने जाते हैं उनका ये बिजनेस होता हैं, लेकिन ये काफी जोखिम भरा काम होता है जिसमें जान जाने का खतरा भी रहता हैं.

समंदर में काफी मछलियां होती है और सभी मछलियों के अलग अलग भाव होते हैं जिसमें कुछ मछलियां सस्ती होती हैं तो कुछ मछलियों के भाव काफी ज्यादा होते हैं.

अब मुंबई के पालघर में एक मछुआरे को उसके जाल में 175 घोल मछलियां मिली हैं और इस मछुआरे का नाम चंद्रकांत तरे हैं. चंद्रकांत तरे मछली पकड़ने समंदर में गये थे और वहां उनके जाल में 175 घोल मछलियां फंसी जिसे लेकर वो बाहर आए.

घोल मछली काफी महंगी होती है और इस एक मछली की कीमत 85 हजार रुपए होती है और चंद्रकांत तरे ने अपनी जाल में पकड़ी घोल मछलियां 1 करोड़ 33 लाख रुपए में बेची और रातों-रात करोड़पति बन गये.

इस मछली का इस्तेमाल काफी चीजों के लिए किया जाता है जैसे औषधीय गुण इसमें पाए जाते हैं तो कॉस्मेटिक चीजें बनाने में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है.

इन मछलियों को उत्तरप्रदेश के एक ट्रेडर ने खरीदा, लेकिन अभी इसकी डील होनी बाकी हैं और जैसे ही डील होगी तो चंद्रकांत तरे करोड़पति बन जाएंगे.