भारत से हाथ से निकल गया था पूरा मैच, फिर इन 2 गेंदों पर पलटा खेल !

0
7

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे चौथे टेस्ट के पांचवे दिन भारतीयों गेंदबाज़ों ने शानदार प्रदर्शन किया और इंग्लैंड को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया।

आखिरी दिन का दूसरा सेशन खत्म होने तक इंग्लैंड193 रन पर 8 विकेट गवाँ चुकी थी, अब भारत को इतिहास बनाने से नही कोई रोक सकता था क्योंकि मात्र 2 विकेट चाहिए थे मैच जीतने के लिए ।

दूसरे सेशन में भारतीय गेंदबाजों ने स्टीक लाइन और धारदार गेंदबाज़ी का नमूना पेश किया पूरी श्रृंखला में सबसे सफल बल्लेबाज़ जो रुट भारतीय टीम के लिए सबसे बड़ी चुनौती थे ऐसे में उनका विकेट लेने महत्वपूर्ण था।

इंग्लैंड के लिए पहली पारी में अर्धशतक बनाने वाले क्रिस वोक्स और कप्तान जो रुट के बीच अच्छी पार्टनरशिप होने लगी जो भारत के लिए खतरे की घण्टी थी।

ऐसे में कप्तान विराट कोहली ने बल्लेबाज़ी में शानदार प्रदर्शन कर रहे शार्दुल ठाकुर के हाथों में गेंद थमा दी, फिर क्या था शार्दुल ने अपना जादुई करिश्मा दिखाया और जो रुट का विकेट उखाड़ फेंका। उसके बाद क्रिश वोक्स भी ज्यादा देर नही खेल सके और उमेश यादव ने उनको भी चलता किया

जो रुट और क्रिस वोक्स के आउट होने के बाद अब भारत को जीत के लिए सिर्फ 2 विकेट चाहिए थे जो एक तरह से औपचारिकता ही थी।
दूसरी तरह इंग्लैंड को मैच बचाने के लिए 35 ओवरों का सामना करना था और जिस तरह भारतीय गेंदबाज़ आग बरसा रहे थे उसे देखकर साफ लग रहा था की इंग्लैंड के लिए मैच बचा पाना नामुनकिन है।

चाय के बाद खेल शुरू हुआ और वही हुआ जिसकी सबको उम्मीद थी, उमेश यादव ने पहले क्रेग ओवरटन को बोल्ड किया और उसके बाद जेम्स एंडरसन को आउट कर मैच भारत की झोली में डाल दिया । भारत 50 साल बाद ओवल में टेस्ट मैच जीत कर इतिहास बनाने में कामयाब हुए।