बुसान में इंटरनेशनल अवॉर्ड के लिए अर्जुन रामपाल की फिल्म नामित, 6 फिल्मों से होगी टक्कर

0
44

अभिनेता अर्जुन रामपाल और कोंकना सेन शर्मा की सोशल ड्रामा पर आधारित फिल्म द रेपिस्ट को बुसान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में अवॉर्ड के लिए नामांकन किया गया है। फिल्म को एशियन सिनेमा विंडो सेक्शन के तहत चुना गया है। फिल्म को अवॉर्ड जीतने के लिए 7 अन्य फिल्मों से लड़ के हराना होगा।

अगले महीने होगा बुसान फेस्टिवल- विश्व के प्रतिष्ठित फिल्म फेस्टिवल बुसान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का आयोजन 6 से 15 अक्टूबर को यह होने जा रहा है। साल 1996 से हर साल यह अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल साउथ कोरिया के बुसान में ही होता है। इस फेस्टिवल में भारत समेत दुनियाभर की फिल्मों को यह दिखाया जाता है। बेस्ट फिल्मों को अवॉर्ड से सम्मानित भी किया जाता है।

फिल्म द रेपिस्ट को मिला नामांकन

इस साल अक्टूबर में होने वाला यह फेस्टिवल का 26वां संस्करण होने जा रहा है। फेस्टिवल में अ विंडो ऑफ एशियन सिनेमा सेक्शन में भारतीय फिल्म द रेपिस्ट को भी शामिल किया गया है। अपर्णा सेन के डायरेक्शन में बनी इस सोशल ड्रामा फिल्म में अर्जुन रामपाल, कोंकना सेन शर्मा और तनमय धनंजय ने लीड रोल भी निभाए हैं।

6 में 2 फिल्मों को मिलेगा अवॉर्ड

फिल्म द रेपिस्ट को प्रतिष्ठित किम जीसॉक अवॉर्ड के लिए भी नामित किया गया है। इस अवॉर्ड के लिए 6 और फिल्में भी नामांकित किया गया है। चयन समित 15 अक्टूबर को 6 में से 2 फिल्मों को ही विजेता घोषित करेगी। दो विजेता फिल्मों को इनामी राशि के रूप में 10 हजार यूएस डॉलर मिलने के साथ प्रमाण पत्र आदि भी प्राप्त होंगे।

पहले भी भारतीय फिल्में जीत चुकीं अवॉर्ड

साल 2020 में किसी भी भारतीय फिल्म को अवॉर्ड नहीं मिला था। जबकि 2019 में 24वें बुसान इंटरनेशनल फिल्म अवॉर्ड में प्रदीप कुरबा की फिल्म मार्केट को किम जीसॉक अवॉर्ड से सम्मानित भी किया गया था। बुसान में इससे पहले 2018 में आशीष पांडे की शॉर्ट फिल्म नूरे को भी अवॉर्ड मिल चुका है। जबकि, हरि विश्वनाथ की फिल्म रेडियो सेट भी अवॉर्ड जीत चुकी है।