जब विद्या बालन ने भिखारियों के साथ भीख मांगी थी, ऋतिक रोशन ने तो उनसे हाथ मिलाने से भी मना कर दिया था

0
4

अभिनेत्री विद्या बालन का नाम बॉलीवुड में सबसे खूबसूरत और बेहतरीन अदाकाराओं में शुमार है। विद्या बालन उन अभिनेत्रियों में शामिल है जो अपने अभिनय से किसी को भी अपना दीवाना बना सकती है। विद्या बालन ने अपने अभिनय का जलवा “द डर्टी पिक्चर” और शेरनी जैसी फिल्मो में दिखाया है।

इसके साथ ही उन्हें अपनी जबरदस्त अदाकारी के लिए कई बड़े बड़े पुरुस्कारों से सम्मानित भी किया गया है. विद्या बालन की एक्टिंग का अंदाज़ा आप इसी से लगा सकते है कि, एक बार उन्होंने भिखारी का गेटअप लिया तो हर किसी ने उन्हें भिखारी ही समझ लिया.

भिखारी के गेटअप में कई लोगों ने उन्हें छुट्टे पैसे दिए थे. इतना ही नहीं, राहगीर ने उन्हें फटकार लगाते हुए काम करने की सलाह भी दे डाली. आपको बता दें कि ये वाक्य उस समय का है जब विधा बालन अपनी फिल्म ‘बॉबी जासूस’ की शूटिंग कर रही थी. एक निजी अखबार की खबर के मुताबिक शूटिंग के लिए विद्या ने एक भिखारी का लुक अपनाया हुआ था. इसके बाद वह हैदराबाद रेलवे स्टेशन के पास बैठे कुछ भिखारियों के पास जाकर बैठ गई थी. विद्या को देखकर कोई भी उन्हें पहचान नहीं सकता था. इसी दौरान कुछ लोगों ने उनके हाथ में पैसे रख दिए.

लोगों ने न सिर्फ विद्या को पैसे दिए बल्कि फटकार लगाई और कहा कि उन्हें भीख मांगना छोड़कर कुछ काम करना चाहिए. इससे पता चलता है कि उन्होंने कितना बखूबी भिखारी का किरदार निभाया था. आपको बता दें कि उन्होंने अपनी फिल्म ‘बॉबी जासूस’ में एक डिटेक्टिव का किरदार निभाया था. इस फिल्म में विद्या के साथ मशहूर अभिनेता अली फ़ज़ल लीड किरदार में थे.

विद्या बालन ने अपने भिखारी वाले लुक के साथ अभिनेता ऋतिक रोशन और अरबाज खान को भी हैरान कर दिया था. वह भिखारी वाले गेटअप में ही उस जगह चली गई जहां पर ऋतिक रोशन पहले से ही फोटोशूट कर रहे थे. अभिनेता उन्हें इस तरह देखकर हैरान रह गए. इस दौरान जब विद्या ने उनसे हाथ मिलाने को हाथ आगे बढ़ाया तो ऋतिक रोशन पीछे हट गए. फिर धीरे से उन्होंने हाथ मिलाया. इसके थोड़ी देर बाद ही उन्हें पता चलता है कि वह कोई नहीं बल्कि विद्या बालन है.ऐसे में वह हैरान रह जाती हैं. इसी तरह उन्हें अरबाज खान भी पहचान नहीं पाते हैं.

विद्या बालन के वर्क फ्रंट के बारे में बात करे तो विद्या बालन ने फिल्म ‘परिणीता’ के साथ अपने करियर की शुरूआत की थी. विद्या कम उम्र से ही अभिनेत्री शबाना आजमी और माधुरी दीक्षित से प्रेरित थीं. 16 साल की उम्र में एकता कपूर के टेलीविजन धारावाहिक ‘हम पांच’ में वह नज़र आई थी. बॉलीवुड में विद्या ने 2005 में फिल्म ‘परिणीता’ में अपने अभिनय का लोहा मनवाया. ‘भूल-भुलैया’ (2008), ‘पा’ (2009), ‘इश्किया’ (2010),’नो वन किल्ड जेसिका’ (2011),’डर्टी पिक्चर’ (2011), ‘कहानी’ (2012) जैसी फिल्में शामिल थीं.

विद्या बालन ने राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, पांच फिल्मफेयर पुरस्कार, और पांच स्क्रीन पुरस्कार जीते है. आखिर बार उन्हें फिल्म शेरनी में देखा गया था. इस फिल्म में उन्होंने एक फॉरेस्ट अफसर का किरदार अदा किया था. उनकी यह फिल्म OTT प्लेटफार्म पर रिलीज़ हुई थी. विद्या बालन के बारे में यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइये। अगर आप हमसे संपर्क करना चाहते है तो आप हमें ईमेल भी कर सकते है।