14 साल की लड़की के प्यार में पागल थे ‘गब्बर सिंह’, कहा था जल्दी बड़ी हो जाओ मुझे शादी करनी है तुमसे

0
7

मुंबई: बॉलीवुड के ब्लॉकब्लस्टर फिल्म ‘शोले’ में विलेन की भूमिका निभाने वाले गब्बर सिंह यानी अमजद खान किसी पहचान के मोहताज नहीं है. मां अपने बच्चे से कहती हैं सो जा वरना गब्बर आ जायेगा. अपनी शानदार अदाकारी से लाखों दिलों पर राज करने वाले अमजद खान भी कभी अपना दिल हार बैठे थे.

जानकारी के मुताबिक अमजद खान अपने फ़िल्मी करियर में एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्मों में काम किया है. आज हम आपको बताने जा रहे हैं अमजद खान की प्रेम कहानी और उनकी जिंदगी से जुड़े कुछ खास बातें. जिसे बहुत कम लोग जानते हैं.

बता दें, अमजद खान का जन्म 12 नवंबर 1940 को पेशावर ( पाकिस्तान) में हुआ था. अमजद खान को एक्टिंग विरासत में मिली है. उनके पिता जाकरिया खान भी फिल्मों में विलेन का किरदार निभाया करते थे. इसके बाद अमजद ने भी अभिनय की दुनिया में जब कदम रखा तो उन्होंने भी विलेन का ही किरदार निभाते दिखाई दिए. उन्होंने फिल्म ‘शोले’ के अलावा ‘लावारिस’, ‘हीरालाल-पन्नालाल’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’, ‘परवरिश’ जैसी बड़ी फिल्मों में काम किया.

14 साल की लड़की के प्यार में पागल थे गब्बर सिंह, शादी के लिए भेज दिया था प्रस्ताव

ऐसे में अगर अमजद के पर्सनल लाइफ के बारे में तो उनकी शादी साल 1972 में शेहला खान से हुई थी. कहा जाता है कि, शेहला और अमजद खान की पहली मुलाकात उस समय हुई थी जब वह महज  14 साल की थी और इस दौरान दोनों एक क्लब में खेलने आया करते थे.

 

क्योंकि शेहला और अमजद खान मुंबई के बांद्रा में एक-दूसरे के पड़ोसी थे. अमजद खान कॉलेज की पढ़ाई कर रहे थे तब शेहला महज 14 साल की थी. इस दौरान एक्टर को उनसे प्यार हो गया. एक दिन बैडमिंटन खेलने समय शेहला और अमजद की मुलाकात हुई. इस दौरान अमजद ने शेहला से पूछा कि तुम्हारी उम्र क्या है तो उन्होंने 14 साल बतायी. तब अमजद ने कहा कि, तुम जल्दी बड़ी हो जाओ मैं तुमसे शादी करना चाहता हूं.

अमजद खान को विरासत में मिली एक्टिंग, पिता भी करते थे फिल्मों में विलेन का रोल

वहीँ एक इंटरव्यू के दौरान अमजद खान की पत्नी शेहला खान ने बताया था कि, “अमजद खान ने मेरे घर शादी का प्रस्ताव भेजा था. लेकिन उस दौरान मेरी उम्र काफी कम थी तो मेरे घरवालों ने शादी करने से मना कर दिया था.” लेकिन दोनों का प्यार बरकरार रहा और कई सालों तक छिप-छिपकर मिलते रहे. हालांकि एक दिन दोनों के घर वाले इनकी शादी के लिए मान गए. जिसके बाद साल 1972 में दोनों ने शादी रचा ली. शादी के एक साल बाद साल 1973 में इस जोड़े के घर बेटे ‘शादाब’  का जन्म हुआ है.

 

अमजद खान के लिए बेटे के पैदा होने का दिन था बेहद खास

कहा जाता है कि, अमजद के लिए यह दिन बेहद खास रहा क्योंकि जहां एक तरफ इस दिन अमजद खान पिता बनें वहीं दूसरी तरफ उन्हें इसी दिन फिल्म ‘शोले’ के लिए गब्बर सिंह के किरदार का ऑफर मिला था. शेहला का कहना है कि, अहमद भले ही स्क्रीन पर नकारात्मक भूमिकाओं में दिखाई देते हैं, लेकिन वह वास्तविक जीवन में बहुत ही अच्छे और दयालु किस्म के व्यक्ति हैं.