आदिल को करंट लगने पर देवदूत बनकर बचाने आया अमित, जान जोखिम में डाल बचाई जान

0
12

हमारे जीवन में कई ऐसे घटनाएं होती है, जो सोचने भर से डरावनी लगती हैं। पर जो इससे बच जाता है उसे नया जीवन मिल जाता है, और जो बचाने में सहायक होता है, वो देवदूत बन जाता हैं। हम बात कर रहे है राजस्थान के झुंझुनू के पास न्हूंद गांव में घटी एक घटना के बारे में। इस घटना में कैसे छोटे से बच्चे को ट्रांसफार्मर के पास करंट लगने पर एक युवक ने अपनी जान जोखिम में डालते हुए उसे बचा लिया।

सोशल मीडिया पर हाल ही में एक दिल छू लेने वाला वीडियो सामने आया है

सीसीटीवी में कैद हुई राजस्थान की यह घटना जब सोशल मीडिया पर लोगो द्वारा देखा गया, तो लोग इस वीडियो में बचाने वाले युवक की हिम्मत की हर जगह तारीफ कर रहे हैं।

जाने पूरी घटना के बारे में

सीसीटीवी से मिले वीडियो के अनुसार मोबिल नाम के शख्स का बेटा आदिल अपने दोस्त के साथ आइसक्रीम लेने निकला था, अपनी पसंद की आइसक्रीम नहीं मिलने पर वह वापस लौटने लगा। वापस लोटने के दौरान गांव के चौक में लगे ट्रांसफॉर्मर से करंट के तार को बच्चे ने छू लिया, जिससे उसे तेज करंट लग गई। देख कर पास में मौजूद आदि पूनिया नाम के शख्स ने अपनी जान की परवाह न करते हुए बच्चे की तरफ दौड़ा और लकड़ी लेकर झटके से उसके हाथ को वहां से हटा कर बहादूरी दिखाई।

अमित मौके पर उसे अस्पताल नही ले जाता तो अनहोनी हो सकती थी

यह सब होने के बाद अमित नाम के एक शख्स ने तुरंत वहां से गुजर रही गाड़ी को रुकवा कर बच्चे को अस्पताल ले गया। फिलहाल बच्चे की हालत खतरे से बाहर है, यह सब हो पाया बस अमित के तुरंत किए काम के कारण, अगर थोड़ी भी देरी होती तो कुछ भी अनहोनी हो सकती थी।

आदिल के पिता का आरोप क्षेत्र का लाइनमैन पर

इस घटना से पहले भी ट्रांसफार्मर से ऐसे करंट दौड़ने वाली घटना हो चुकी है, इस पर आदिल के पिता ने सारा आरोप क्षेत्र के लाइनमैन पर लगाया हैं। सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल होने के बाद लोगों का सारा गुस्सा लाइनमैन पर निकल रहा हैं।