लद्दाख पर चीन की हरकतों के बाद पीएम मोदी का पहला बयान, सीधे ध’मकी दे डाली

0
669

हम इन दिनों में देख रहे है कि किस तरह से चीन भारत की सीमाओं में घुसकर के नियमो का उल्लंघन पर उल्लंघन कर रहा है और ये चीज किसी को भी पसंद नही आ रही है. कभी चीन लद्दाख में घुस आता है तो कभी एलएसी पर गलत तरीके से निर्माण का प्रयास करता है. ये कही न कही बताता है कि अब चीनी शान्ति से उब गये है और उनको थोडा डोज की जरूरत है. इसी वजह से अगर आप देखे तो लगातार आपस में कुछ न कुछ हो ही रहा है.

हाल ही में गलवान घाटी में हुए संघर्ष में भारत ने अपने 20 जवान खोये है जो कोई छोटी संख्या नही है. इस पर अब जाकर के प्रधानमंत्री का स्टेटमेंट आया है. ये सिर्फ स्टेटमेंट नही बल्कि चेतावनी समझी जा रही है. पीएम मोदी ने साफ़ शब्दों में कहा कि जवानो का बलिदान व्यर्थ नही जाएगा, ये मैं देश के लोगो को कहकर के आश्वस्त कर देना चाहता हूँ.

हमारे देश की एकता और संप्रभुता हमारे लिए सबसे अधिक इम्पोर्टेन्ट है. भारत शान्ति चाहता है लेकिन अगर भारत को उकसाया जाता है तो ये बहुत ही जोरदार तरीके से जवाब देने में भी बड़े ही अच्छे तरीके से सक्षम है. पीएम मोदी ने चीन को ये सीधे सीधे तौर पर वार्निंग दे दी है कि अब वो भारत को भारत की सेना को उकसाना बंद कर दे वरना अच्छा नही होगा. अभी तो सिर्फ चालीस के करीब ही लोग इस हाल में वापिस भेजे है.

अगर दुबारा ऐसा कुछ हुआ तो फिर गिनती गिनना ही याद नही रहेगा. अब प्रधानमंत्री का ये स्टेटमेंट बताता अहि कि कही न कही सरकार काफी आक्रामक रूख अपना रही है और देश के लिए अब वो एकता का स्वरुप देख रहे है. अब  बस जनता को उनका साथ अच्छे से देने की जरूरत है.