9 साल में ही विधायक से बन गए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री, इतनी संपत्ति के मालिक हैं अजय मिश्र टेनी

0
9

उत्‍तर प्रदेश के लखीमुपर खीरी में 4 किसानों समेत 8 लोगों की मौत के बाद से ही खीरी से बीजेपी सांसद अजय मिश्र टेनी चर्चा में हैं।उनके बेटे इस मामले में मुख्‍य आरोपी हैं ।

New Delhi, Oct 08: भारतीय जनता पार्टी के उत्‍तर प्रदेश की खीरी लोकसभा से सांसद  सांसद अजय मिश्र टेनी चर्चा में हैं । उनके बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में एफआईआर भी दर्ज हो चुकी है। टेनी के राजनीतिक करियर पर नजर डालें तो उन्‍होंने बहुत तेजी से केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल में जगह बनाई है । वो पहली बार 2012 में विधायक बने थे, विधायक बनने के महज 9 साल के अंदर ही वह केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के पद तक पहुंच गए। आगे जानें अजय मिश्र टेनी के राजनीतिक करियर और उनकी संपत्ति के बारे में ।

2012 में चुने गए विधायक
अजय मिश्र टेनी साल 2012 में निघासन विधानसभा सीट से पहली बार Ajay Misra teni (2)बीजेपी एमएलए चुने गए थे। इसके दो साल बाद 2014 में वह खीरी से लोकसभा चुनाव जीते। वहीं 2019 में भी वह इसी सीट से बीजेपी के Ajay Misra teni (3)टिकट पर जीतकर संसद पहुंचे। जुलाई 2021 में नरेंद्र मोदी कैबिनेट विस्तार में उन्हें केंद्रीय गृह राज्य मंत्री की कुर्सी सौंप दी गई । उनका ये सफर बड़े ही कम समय में तय हो गया । टेनी के बैकग्राउंड को लेकर भी चर्चा होती है।

अजय मिश्र की संपत्ति   
2019 लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग को दिये अपने हलफनामे में Ajay Misra teni (5)अजय मिश्र टेनी ने बताया था कि उनके पास करीब साढ़े चार करोड़ रुपए की चल अचल संपत्ति है। टेनी के मुताबिक उनके पास महिंद्रा थार समेत 30 लाख रुपए के कीमत की दो कारें भी हैं। इसके अलावा उनके पास 2 लाख रुपए से ज्यादा की कीमत का सोना भी है। टेनी राइस मिल के भी मालिक हैं ।

रिवॉल्‍वर और राइफल भी हैं
अजय मिश्रर टेनी ने अपने हलफनामे में बताया है कि उनके पास एक Ajay Misra teni (4)रिवॉल्वर और एक राइफल भी है। इसके साथ ही उनके पास करीब 50 लाख रुपए के दो रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी और करीब 70 लाख रुपए की खेती लायक जमीन है। आपको बता दें अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्र को पुलिस तलाश रही है, आज क्राइम ब्रांच में पेश होने के मन के बावजूद आशीष पेश नहीं हुए जिसके बाद उनके घर पर एक दूसरा नोटिस चस्‍पा कर दिया गया है ।