आशीष मिश्रा के पास आज 11 बजे तक की डेडलाइन, छावनी में तब्दील हुई पुलिस लाइन

0
14

केन्‍द्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के पास आज तक की डेडलाइन है, क्रइम ब्रांच ने उन्‍हें कल दोबारा समन किया था ।

New Delhi, Oct 09: लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मुय आरोपी आशीष मिश्रा को जांच दल ने आज 11 बजे तक पेश होने के लिए कहा है । इस मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा मुख्य आरोपी हैं । आशीष मिश्रा को पुलिस ने दो बार समन किया है, पहली बार में जब वो पेश नहीं हुए तो शुक्रवार को फिर एक नोटिस उनके घर के बाहर चसपा कर दिया गया है । वहीं, आशीष के नेपाल भागने की चर्चा के बीच अजय मिश्रा ने एक दिन पहले साफ किया था कि आशीष कहीं गया नहीं है । वो सबूतों के साथ कल पेश होगा ।

पुलिस लाइन छावनी में तब्‍दील
क्राइम ब्रांच ने आशीष मिश्रा को आज 11 बजे तक पेश होने के लिए कहा है । Ashish Mishraआशीष की एसआईटी के सामने पेशी को लेकर पुलिस लाइन में सुरक्षा के तगड़े इंतजामात कर दिए गए हैं,पूरी पुलिस लाइन को छावनी बना दिया गया है । जगह-जगह बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं । वहीं चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है, यानी सुरक्षा ऐसी कि कोई परिंदा भी पर ना मार सके।

घर पर नहीं मिला था आशीष मिश्रा
दरअसल क्राइम ब्रांच ने आशीष मिश्रा को 9 अक्‍टूबर को समन किया था, शुक्रवार को सुबह 11 बजे तक उसे पेश होने को कहा गया था । लखीमपुर पुलिस जब समन लेकर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के घर पहुंची थी तब वहां कोई नहीं था । घर पर सन्‍नाटा पसरा हुआ था । जिसके बाद पुलिस राज्यमंत्री के घर दूसरी नोटिस चस्पा कर आई थी । क्राइम ब्रांच ने इसके बाद आशीष मिश्रा को दोबारा तलब किया है ।

किसानों पर गाड़ी चलाने का आरोप
आशीष मिश्रा पर आरोप है कि उसने किसानों पर गाड़ी चढ़ाई है । घटना के वीडियो में एक गाड़ी प्रदर्शनकारी किसानों को पीछे से रौंदते हुए आगे निकल गई । इस घटना में 8 लोगों की मौत हो गई, जिसमें 4 किसान थे । इस बीच  आशीष के नेपाल भागने की भी चर्चा थी, मन दिए जाने के बावजूद जब वो एसआईटी के सामने पेश नहीं तो कहा जाने लगा कि वो देश छोड़कर भाग गया है । हालांकि, आशीष के पिता और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी खुद सामने आए थे और कहा था उनका बेटा कहीं नहीं गया है । आशीष साक्ष्यों के साथ जांच टीम के सामने पेश होगा । उधर लखीमपुर में मृत पत्रकार के घर पर नवजोत सिंह सिद्धू मौन धरने पर बैठ गए हैं, कह रहे हैं कि जब तक आशीष की गिरफ्तारी नहीं होगी तब तक भूख हड़ताल करेंगे ।