अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट में पैदा होने वाले बच्चे को कहाँ की मिलेगी नागरिकता? आइये जानिए।

0
10

लंदन से कोच्चि (London to Kochi) आ रहे एयर इंडिया (Air India) के विमान में मंगलवार को एक बच्चे का जन्म हुआ. अब लोगों के मन में यह सवाल उठने लगा कि बच्चे की नागरिकता कहां की होगी. सबसे पहले तो यह स्पष्ट कर दें कि भारत में 7 महीने या उससे अधिक की गर्भवती महिला को हवाई यात्रा करने की अनुमति नहीं है, लेकिन कुछ विशेष मामलों में इसकी अनुमति है. ऐसे में अगर भारत से अमेरिका के लिए उड़ान भरने वाले विमान में कोई महिला बच्चे को जन्म देती है तो बच्चे के जन्म प्रमाण पत्र में जन्मस्थान क्या होगा और उसकी नागरिकता क्या होगी? यह सबसे बड़ा सवाल है.

ऐसे में यह देखना होगा कि बच्चे के जन्म के समय विमान किस देश की सीमा से ऊपर उड़ान भर रहा है. लैंडिंग के बाद बच्चे के जन्म प्रमाण पत्र से संबंधित दस्तावेज उस देश के एयरपोर्ट अथॉरिटी से प्राप्त किए जा सकते हैं. हालांकि, बच्चे को अपने माता-पिता की राष्ट्रीयता प्राप्त करने का भी अधिकार है.

उदाहरण के लिए, यदि पाकिस्तान से अमेरिका के लिए उड़ान भरने वाला विमान भारतीय सीमा के ऊपर से गुजर रहा है और साथ ही यदि विमान में बच्चे का जन्म होता है, तो बच्चे के जन्म स्थान को भारत माना जाएगा और उस बच्चे को नागरिकता मिल सकती है. उसके माता-पिता का देश और साथ ही भारत की नागरिकता. हालांकि, भारत में दोहरी नागरिकता का कोई प्रावधान नहीं है.

कुछ साल पहले ऐसा ही मामला अमेरिका में सामने आया था. एक विमान ने एम्सटर्डम से अमेरिका के लिए उड़ान भरी थी. जब विमान अटलांटिक महासागर में पहुंचा तो एक महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी और उसने एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया. हालांकि बाद में, मां और बच्चे को अमेरिका के मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल ले जाया गया. लड़की का जन्म यूएस बॉर्डर में हुआ था, इसलिए उसे यूएस और नीदरलैंड दोनों की नागरिकता मिल गई. विमान में जन्म लेने वाले बच्चों की नागरिकता को लेकर हर देश में अलग-अलग नियम होते हैं.