एलन मस्क को रतन टाटा देंगे कड़ी टक्‍कर, तैयार हो रहा 1 अरब डॉलर का सॉलिड प्लान

0
7

दुनिया की सबसे महंगी गाड़ी बनानी वाली ऑटो कंपनी टेस्ला अब भारत में उतर रही है, लेकिन यहां उसका मुकाबला रतन टाटा से होगा । क्‍या है ये पूरा मामला, आगे जानें ।

New Delhi, Oct 09: दुनिया के सबसे अमीर और टेस्ला कंपनी के सीईओ एलन मस्क भारत में व्‍यापार बढ़ाने की तैयारी में है, खबर है कि एलन भारत में अपनी इलेक्ट्रिक कार उतारने की तैयारी कर रहे हैं। लेकिन उनके लिए ये आसान नहीं होगा, भारत में उन्‍हें टक्‍कर देने की तैयारी रतन टाटा ने कर ली है । अपने इलेक्ट्रिक वीकल्स को उड़ान देने के लिए टाटा मोटर्स ने बड़ी योजना पर काम करना शुरू कर दिया है । क्‍या है ये योजना, आगे बताते हैं आपको ।

क्‍या है टाटा का प्‍लान?
देश में वाहन बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी टाटा मोटर्स अब अपने पैसेंजर व्‍हीकल्‍स डिवीजन को एक सहयोगी कंपनी में ट्रांसफर करने की तैयारी में है । जिसमें ईवी पोर्टफोलियो भी शामिल हैं, यानी कि इलेक्ट्रिक गाडि़यों का सगमेंट । कंपनी को इस ट्रांसफर के लिए मार्च में शेयरहोल्डर्स से मंजूरी मिल गई थी। जिसके बाद टीपीजी का निवेश 1.5 अरब डॉलर तक पहुंच सकता है। डील के लिए टाटा मोटर्स के ईवी डिवीजन की वैल्यू 8 से 9 अरब डॉलर लगाई जा सकती है।

इलेक्ट्रिक व्‍हीकल्‍स की बढ़ रही डिमांड
मार्केट एक्‍सपर्ट के मुताबिक टाटा ग्रुप, अबु धाबी इनवेस्टमेंट अथॉरिटी और सऊदी अरब के पीआईएफ जैसे कुछ सॉवरेन वेल्थ फंड्स के साथ भी बातचीत कर रहा है। लेकिन उनका निवेश टीपीजी की तुलना में कम होने का ही अनुमान है । ऐसे में टीपीजी को एंकर इनवेस्टर का दर्जा मिल सकता है। सूत्रों के मुताबिक टाटा ग्रुप ने कैल्‍पर्स से भी बात की है । इनमें से कई निवेशक टीपीजी कैपिटल के लिमिटेड पार्टनर्स हैं ।

10 नए इलेक्ट्रिक व्‍हीकल्‍स उतारने का प्‍लान
बाजार से जुड़ी मीडिया रिपोर्ट में जानकारी बहुत पहले ही आ गई थी कि टाटा मोटर्स ने अपनी ईवी प्लेटफॉर्म के लिए फंड जुटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है, इसके लिए मॉर्गन स्‍टेनली और जेपी मॉर्गन को काम पर लगाया है । ये भी माना जा रहा है कि बैंक औफ अमेरिका भी टीपीजी के साथ काम करहा है । हालांकि इन सारी खबरों पर, मीडिा रिपोर्अ पर टाटा की ओर से कोई बयान नहीं आया है । टाटा मोटर्स ने 2025 तक देश में 10 नए इलेक्ट्रिक व्‍हीकल्‍स उतारने की घोषणा की है।