अपने ही लाये वीडियो के जाल में फंसे आशीष मिश्रा, इन सवालों के नहीं दे पाये जवाब, 3 दिन पुलिस रिमांड

0
10

आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के ऑफिस में एसआईटी के सामने पेश हुआ, सूत्रों के अनुसार इसके बाद डीआईजी उपेन्द्र अग्रवाल ने उससे अपनी बेगुनाही के सबूत पेश करने को कहा।

New Delhi, Oct 10 : यूपी के लखीमपुर खीरी मामले में मुख्य आरोपित केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को लंबी पूछताछ के बाद पुलिस अधिकारियों ने शनिवार देर रात गिरफ्तार कर 3 दिन के पुलिस रिमांड में भेज दिया है, आशीष पर 3 अक्टूबर को अपनी थाप जीप से किसानों को कुचलने की आरोप है, साथ ही गोली चलाने का भी आरोप लगा है, उसकी थार जीप से 315 बोप के मिस कारतूस बरामद हुए थे, पुलिस लाइंस के क्राइम ब्रांच में लंबी पूछताछ के बाद वो ये साबित नहीं कर पाया, कि कारतूस कहां से आई, वो ये भी साबित नहीं कर पाया कि घटना के समय वहां मौजूद नहीं था, जबकि पुलिस के पास बहुत सारे साक्ष्य मौजूद थे।

क्राइम ब्रांच में पेशी
दरअसल शनिवार सुबह आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के ऑफिस में एसआईटी के सामने पेश हुआ, सूत्रों के अनुसार इसके बाद डीआईजी उपेन्द्र अग्रवाल ने उससे अपनी बेगुनाही के सबूत पेश करने को कहा। ashish mishra (1) इसके बाद अपने साथ लाये वीडियो के जाल में फंस गया, इसने कुछ वीडियो पेश किये, लेकिन जब पुलिस ने उससे पूछा कि वो 2.36 मिनट से 3.40 बजे तक कहां थे, तो वो वीडियो पेश नहीं कर पाया कि वो दंगल में अपने पिता के साथ था। इसके बाद वो गोलमोल जवाब देने लगा, वो ये भी साबित नहीं कर पाया कि उसकी गाड़ी में कारतूस कहां से आया, इसका जवाब भी नहीं दे पाया, इसके बाद देर रात उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

अंकित और सुमित को भी बनाया गया आरोपी
दूसरी ओर एसआईटी ने आशीष मिश्रा के साथ ही अंकित दास और सुमित जायसवाल को भी आरोपित बनाया है, sumit अब दोनों की गिरफ्तारी के बाद लखीमपुर खीरी से लेकर लखनऊ तक दबिश दी जा रही है, जानकारी के मुताबिक जल्द ही दोनों को गिरफ्तार किया जाएगा।

प्रियंका गांधी को क्रेडिट
इस बीच आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी का श्रेय प्रियंका गांधी वाड्रा को दिया जा रहा है, priyanka-gandhi साथ ही केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी से भी इस्तीफा मांगा जा रहा है, कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता अन्नू अवस्ती ने कहा कि सरकार शुरु से ही आरोपी को बचाने में जुटी थी, लेकिन प्रियंका गांधी के सत्याग्रह के आगे उन्हें झुकना पड़ा।