रुक नहीं रही वरुण गांधी की बयानबाजी, अब लखीमपुर मामले पर कही ऐसी बात, नई चर्चा शुरु

0
7

वरुण गांधी किसानों के मसले को लेकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं, लखीमपुर खीरी में पिछले दिनों हुई हिंसा को लेकर भी उन्होने वीडियो साझा किया था।

New Delhi, Oct 10 : बीजेपी सांसद वरुण गांधी इन दिनों बागी मूड में हैं, वो किसानों के मुद्दों को लेकर सरकार को घेर रहे हैं, लखीमपुर हिंसा की घटना को लेकर भी खुलकर बयानबाजी कर चुके हैं, अब बीजेपी सांसद ने कहा कि लखीमपुर की घटना को हिंदू बनाम सिख बनाये जाने की कोशिश की जा रही है, उन्होने कहा कि ये कोशिश ना सिर्फ अनैतिक और गलत धारणा पैदा करने वाली है, बल्कि खतरनाक भी है।

खुलकर बयानबाजी
वरुण गांधी किसानों के मसले को लेकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं, लखीमपुर खीरी में पिछले दिनों हुई हिंसा को लेकर भी उन्होने वीडियो साझा किया था, दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी, Varun gandhi इसके बाद बीजेपी की नवगठित राष्ट्रीय कार्यसमिति से वरुण और उनकी मां मेनका गांधी को बाहर कर दिया गया था।

अब ट्वीट
वरुण गांधी ने ट्विटर पर लिखा, लखीमपुर खीरी की घटना को हिंदू बनाम सिख की लड़ाई बनाने की एक कोशिश की जा रही है, ये ना सिर्फ अनैतिक और गलत असर डालने वाली है, बल्कि ऐसी कोई रेखा खींचना और उनके घावों को हरा करने का प्रयास, Varun maneka जिसे भरनें में पीढियां खप गईं, खतरनाक है। हमें राजनीतिक फायदे के लिये राष्ट्रीय एकता को ताक पर नहीं रखना चाहिये।

8 लोगों की मौत
आपको बता दें कि लखीमपुर के तिकोनिया में बीते रविवार को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध करने के दौरान हिंसा में 4 किसानों समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी, मामले में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। यूपी पुलिस ने मामले के लिये एसआईटी का गठन किया है, ASHISH5 जिसने आशीष को पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। वरुण ने कहा कि लखीमपुर में न्याय के लिये संघर्ष गरीब किसानों की निर्दयी हत्या को लेकर है, इसका किसी धर्म विशेष से लेना देना नहीं है। प्रदर्शनकारी किसानों को खालिस्तानी बताया जाना ना सिर्फ हमारी सीमाओं की सुरक्षा के लिये लड़ने और खून बहाने वाले देश के महान सपूतों का अपमान है, बल्कि राष्ट्रीय एकता के लिये भी खतरनाक है, उससे गलत प्रकार की प्रतिक्रिया हो जाए तो।