मोहब्बत का दर्दनाक अंत, सूटकेस में मिली प्रेमिका की लाश, तो गौशाला में उसका मासूम, झकझोर देने वाली खबर

0
7

करीब डेढ साल का बच्चा पेथापुर स्थित स्वामीनारायण मंदिर की गौशाला में लावारिस हालत में मिला, तो हड़कंप मच गया, लोगों ने सोशल मीडिया पर मासूम बच्चे की तस्वीर पोस्ट कर उसे परिवार तक पहुंचाने के लिये कोशिश शुरु कर दी।

New Delhi, Oct 11 : नवरात्रि के पावन पर्व में लोग संतान प्राप्ति के लिये माता की अराधना करते हैं, लेकिन गुजरात के गांधीनगर में एक पत्थर दिल बाप की सन्न कर देने वाली करतूत सामने आई है, जहां आरोपित पिता ने पहले तो अपने बेटे की मां की हत्या कर दी, इसके बाद बेटे से भी छुटकारा पाने के लिये मासूम को रात में एक गौशाला में छोड़ दिया, बच्चे की रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोगों वहां पहुंचे, फिर पुलिस को सूचना दी।

लावारिस हालत में मिला बच्चा
करीब डेढ साल का बच्चा पेथापुर स्थित स्वामीनारायण मंदिर की गौशाला में लावारिस हालत में मिला, तो हड़कंप मच गया, लोगों ने सोशल मीडिया पर मासूम बच्चे की तस्वीर पोस्ट कर उसे परिवार तक पहुंचाने के लिये कोशिश शुरु कर दी, वहीं इस मामले की जानकारी गुजरात के गृह मंत्री हर्ष सिंघवी तक पहुंची, उन्होने तत्काल मासूम बच्चे के परिजनों की खोजबीन के लिये 100 से ज्यादा पुलिस वालों को लगा दिया।

एक्शन में पुलिस
गृह मंत्री के आदेश के बाद सैकड़ों पुलिस वाले एक्शन में आ गये, गौशाला से शुरु करके गांधीनगर शहर के करीब 60 से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज खंगाले गये, जिसमें दिखाई दिया कि शुक्रवार रात 9 बजे एक अज्ञात शख्स बच्चे को लेकर आया, मंदिर के बाहर छोड़कर फरार हो गया, पुलिस कार के नंबर के आधार पर उस तक पहुंची, तो आरोपित कोई और नहीं बल्कि बच्चे का पिता सचिन दीक्षित ही निकला। आरोपित के मोबाइल नंबर पर उसकी लोकेशन ट्रेस की गई, तो पता चला कि आरोपित राजस्थान के कोटा पहुंच चुका है, पुलिस ने कड़ी मेहनत करके 24 घंटे के भीतर आरोपित को पकड़ा, वापस कोटा से गांधीनगर लेकर आई, आरोपित ने पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे किये हैं।

क्या है मामला
आरोपित के पकड़े जाने के बाद पूछताछ में बताया कि ये बेटा उनकी प्रेमिका हिना के कोख से जन्मा है, जिसका नाम शिवांश है, वो डेढ साल का है, आरोपित ने बताया कि मैं पहले से शादीशुदा था, करीब दो साल पहले गांधीनगर में एक कार्यक्रम के दौरान हिना से मुलाकात हुई, प्यार हो गया, फिर दिन में आधा समय पत्नी और आधा हिना के साथ बिताने लगा। सचिन ने बताया कि हिना पिछले कुछ दिनों से लगातार शादी के लिये दबाव डाल रही थी, वो बार-बार एक ही जिद करती, कि पत्नी को तलाक देकर उसके साथ रहने लगूं, इसी बात को लेकर दोनों में विवाद बढता गया, शुक्रवार को विवाद इतना बढ गया, कि सचिन ने हिना का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी, फिर शव को सूटकेस में भरकर गांधीनगर से काफी दूर फेंक आया, इसके बाद बच्चे को गौशाला में छोड़ दिया, मासूम बिलखता रहा, लेकिन आरोपित को दया नहीं आई। जब गौशाला के बाद लोगों ने रोने की आवाज सुनी, तो भीड़ जुट गई, इसी दौरान स्थानीय पार्षद दीप्ति पटेल ने बच्चे को गोद में उठाकर देखभाल की जिम्मेदारी ली, फिलहाल बच्चा उन्हीं के पास है।