राबड़ी आवास के सामने तेज प्रताप का शक्ति प्रदर्शन, आर-पार के मूड में लालू के लाल

0
8

सोमवार को तेज प्रताप यादव ने अपने संगठन छात्र जनशक्ति परिषद की ओर से लोकनायक जेपी नारायण की जयंती पर जनशक्ति यात्रा की शुरुआत की, यात्रा की शुरुआत से पहले वो पदयात्रा कर गांधी मैदान में लगी जेपी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे।

New Delhi, Oct 11 : पिछले कुछ दिनों से राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटों तेजस्वी और तेज प्रताप के बीच के रिश्ते तल्ख होते जा रहे हैं, तेज के बगावती तेवर की वजह से लालू परिवार की कलह सोमवार को खुलकर सामने आ गई, जब तेज प्रताप जेपी जयंती पर पदयात्रा निकालने से पहले अपनी मां राबड़ी देवी के आवास के आगे से निकले, लेकिन उन्होने मां का आशीर्वाद तक नहीं लिया, इसे कुछ लोग तेज प्रताप का राबड़ी आवास के सामने शक्ति प्रदर्शन भी कह रहे हैं।

पदयात्रा
सोमवार को तेज प्रताप यादव ने अपने संगठन छात्र जनशक्ति परिषद की ओर से लोकनायक जेपी नारायण की जयंती पर जनशक्ति यात्रा की शुरुआत की, यात्रा की शुरुआत से पहले वो पदयात्रा कर गांधी मैदान में लगी जेपी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे, पदयात्रा के दौरान वो अपनी मां राबड़ी देवी के सरकारी आवास के बाहर से निकले, rjd tej Pratap लेकिन उन्होने मां से मुलाकात भी नहीं की। कयास लगाये जा रहे थे कि तेज पदयात्रा से पहले मां से आशीर्वाद लेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हो सकता। दरअसल पिछले काफी दिनों से दिल्ली में रहने के बाद राबड़ी देवी पटना लौटी हैं, इसके बाद वो तेज से मिलने उनके आवास पर भी गई, लेकिन दोनों की मुलाकात नहीं हो सकी, राबड़ी देवी बाद में काफी देर तक इंतजार करने के बाद वापस अपने आवास पर लौट आईं, उनके वापस लौटने के बाद तेज प्रताप अपने आवास पर गये।

तेजस्वी को भी न्योता
सोमवार को निकाली गई जनशक्ति यात्रा के लिये तेज प्रताप ने अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव को भी न्योता दिया था, तेज ने कहा था कि वो अपने कार्यक्रम में अर्जुन को भी बुला रहे हैं, वो आएं, उनका इंतजार होगा, TEj Tejashwi हालांकि तेजस्वी इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे, तेज प्रताप यादव के इस कार्यक्रम को उनके भाई और परिवार से मनमुटाव को जोड़कर देखा जा रहा है।

अलग उम्मीदवार
इससे पहले तारापुर विधानसभा सीट पर होने जा रहे उपचुनाव में तेज प्रताप यादव के संगठन छात्र जनशक्ति परिषद समर्थित उम्मीदवार संजय यादव द्वारा नामांकन वापस होने पर उनका गुस्सा अपनी पार्टी राजद पर फूट पड़ा था, Tej Pratap Yadav तेज ने इशारों –इशारों में तेजस्वी और उनके सलाहकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि मेरे लिये चुनाव में आदरणीय तेज प्रताप जी चुनाव प्रचार करेंगे-संजय यादव, जनता के लिये संजय यादव जी ने अपनी उम्मीदवारी वापिस ली,-पार्टी, ना मैंने कुछ कहा ना लिखा, तो इसमें मेरा क्या रोल था या है, हरियाणवी स्क्रिप्ट राईटर तुम ये फालतू की सी ग्रेड कहानी कहीं और लिखना, बिहार सब समझते हैं।