योगी ने 15 दिनों के भीतर निभाया वादा, मनीष गुप्ता की पत्नी फूट-फूटकर रोई, अब सीएम से ये गुहार

0
7

मनीष गुप्ता की हत्या के 15 दिनों के भीतर ही मीनाक्षी को केडीए में ओएसडी पद पर ज्वाइनिंग भी हो गई है, नौकरी ज्वाइन करते समय मीनाक्षी, पति की यादों में अपने आंसूओं को रोक नहीं सकी, वहां फूट-फूटकर रोई।

New Delhi, Oct 13 : यूपी के गोरखपुर में पुलिसिया बर्बरता के शिकार हुए कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की पत्नी को सरकारी नौकरी मिल गई है, कानपुर में मंगलवार को पति को याद करते हुए रोते हुए मीनाक्षी गुप्ता ने नौकरी ज्वाइन कर ली, सूबे की योगी सरकार ने पति की हत्या की वजह से सरकार की ओर से कानपुर केडीए में ओएसडी पद पर नौकरी दी है।

पुलिस वालों ने ले ली जान
आपको बता दें कि मनीष गुप्ता की गोरखपुर के एक होटल में पुलिस वालों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी, जिस पर विपक्ष ने खूब हंगामा मचाया था, हंगामे के बाद खुद सीएम योगी ने कानपुर में मीनाक्षी गुप्ता से मुलाकात करके 40 लाख रुपये की आर्थिक सहायता तक सरकारी नौकरी देने का वादा किय था, साथ ही मनीष का केस भी कानपुर एसआईटी को ट्रांसफर कर दिया था।

15 दिनों के भीतर नौकरी
मनीष गुप्ता की हत्या के 15 दिनों के भीतर ही मीनाक्षी को केडीए में ओएसडी पद पर ज्वाइनिंग भी हो गई है, नौकरी ज्वाइन करते समय मीनाक्षी, पति की यादों में अपने आंसूओं को रोक नहीं सकी, वहां फूट-फूटकर रोई, मीनाक्षी अपने भाई सौरभ और रंजीत सिंह के साथ नौकरी ज्वाइन करने पहुंची थी, खुद केडीए वीसी अरविंद सिंह ने उनकी ज्वाइनिंग कराई, केडीए में मीनाक्षी के लिये सेकेंड फ्लोर पर कमरा नंबर 206 मिला है।

सीएम से गुहार
मीनाक्षी गुप्ता ने नौकरी ज्वाइन करते हुए कहा कि सीएम साहब अब मेरी इतनी मदद और कर दें, कि मेरा केस ट्रायल गोरखपुर से कानपुर ट्रांसफर कर दें, तो सब ठीक हो जाए, केडीए वीसी अरविंद सिंह का कहना है कि Yogi-Adityanath (1) मीनाक्षी को हमारी तरफ से पूरा सहयोग मिलेगा, सीएम साहब के निर्देश पर उनकी जल्द से जल्द ज्वाइनिंग कराई गई है, अब वो हमारे केडीए परिवार की सदस्य हैं।