भूटान को चीन ने दिया अपनी तरफ आने के बदले 10 बिलियन डॉलर का ऑफर, ये था भूटान का जवाब

0
1914

चीन लगातार ये कोशिश कर रहा है कि इस एशिया रीजन में अपना प्रभुत्व कायम कर ले। सिर्फ एशिया ही नही बल्कि वो अफ्रीका और यूरोप तक को अपने काबू में करना चाह रहा है। इसके लिए चीन ने हर तरह के हथकंडे भी अपना लिए और हाल ही में चीन ने अपना एक नया और काफी बड़ा प्लान भी सबके सामने लाया। इस प्लान में चीन एक आर्थिक गलियारा बना रहा है जिसमे अलग अलग देशों को जोड़कर के एक लम्बा चौड़ा रुट बनाया जाएगा जिससे सप्लाई चैन बनेगी।

इस आर्थिक गलियारे के लिए चीन पहले ही एशिया में नेपाल, बांग्लादेश, पाकिस्तान और श्रीलंका को इस आर्थिक गलियारे के लिए मना ही चुका है। ये सब देश राजी है अधिकतर तो चीन से कर्जा लेकर उसके नीचे दब गए है। ऐसा ही आफर चीन ने भूटान को भी दिया है।

ये आफर अब नही बल्कि कई सालों पहले चीन ने भूटान के पास में भेज दिया था जिसमे चीन ने आफर किया था कि भूटान उसके साथ मे आ जाये और उसके आर्थिक गलियारे का हिस्सा बने। इसी के साथ मे चीन ने भूटान को आफर किया कि अगर वो उसके साथ में आर्थिक गलियारे में शामिल ही जाता है और प्लान में मिलकर के काम करता है तो वो उसकी आर्थिक मदद भी करेगा। चीन ने भूटान को पूरे 20 बिलियन डॉलर का कर्ज आफर किया। चीन ने भूटान से कहा कि वो इस कर्ज के पैसे को जैसे चाहे वैसे इस्तेमाल करता है।

इसके जवाब में भूटान ने सीधे तौर पर कह दिया कि वो ऐसा करने में बिल्कुल भी दिलचस्पी नही रखता है। न तो वो चीन से कोई लोन लेने में इंटरेस्टेड है और न ही वो उसके आर्थिक गलियारे का हिस्सा बनेगा। भूटान ने साथ ही साथ मे ये भी मेंशन किया कि वो भारत के साथ मे अपने पुराने संबंधों को बरकरार रखना चाहता है।