बेटी श्वेता बच्चन ने मां जया बच्चन से कही ऐसी बात उन्होंने छोड़ दी थीं एक्टिंग, रहने लगी घर

0
6

मुंबई: अपने जमाने की दिग्गज एक्ट्रेस जया बच्चन अब भले ही बॉलीवुड से दूरी बना ली हो, लेकिन एक समय में उनका नाम इंडस्ट्री की टॉप एक्ट्रेसेस में शुमार था. जया बच्चन ने एक्टिंग करियर में अपने दम पर पहचान बनाई थीं. जया बच्चन ने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है. फिल्मों के अलावा, उन्होंने राजनीति में भी अच्छा खासा नाम कमाया है लेकिन क्या आप जानते हैं एक समय था जब जया अपने करियर के पीक पर थीं, लेकिन उन्होंने एक्टिंग छोड़कर घर पर रहने लगी थीं. उनके ऐसा करने के पीछे उनकी लाडली बेटी श्वेता बच्चन थीं.

जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश के जबलपुर में जन्मी जय बच्चन के पिता तरुण कुमार एक फेमस  लेखक और कवि थे. ऐसे में उनके घर में हमेशा से पढ़ाई-लिखाई का माहौल रहा था, लेकिन जया को हमेशा से एक्टिंग करना ज्यादा अच्छा लगता था. ऐसे में वह एक दिन जब शूटिंग देखने के लिए गई थीं तब शर्मीला टैगोर ने सत्यजीत रे के सामने जया का नाम रखा. क्योंकि वह एक खास किरदार के लिए लड़की की तलाश कर रहे थे. इसके बाद से जया का फिल्मी करियर शुरू हो गया. फिर जया ने फिल्म ‘गुड्डी’ में काम किया. इस फिल्म में काम के बाद उन्होंने अपने करियर में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

बेटी श्वेता बच्चन के कहने पर जया ने छोड़ा था फिल्मों में काम, रहने लगीं थीं घर

जया एक के बाद एक हिट फिल्मों में काम करती गईं. इस दौरान उन्हें अमिताभ बच्चन से प्यार हो गया. जिसके बाद दोनों ने शादी कर ली. ये बात कम ही लोग जानते हैं कि फिल्म ‘शोले’ की शूटिंग के दौरान जया बच्चन गर्भवती थीं. इस फिल्म के बाद ही जया ने बेटी श्वेता और फिर बेटे अभिषेक को जन्म दिया. बच्चों के हो जाने के बाद भी जया लगातार काम कर रही थीं, लेकिन फिर बेटी की एक बात से उन्होंने एक्टिंग से ब्रेक लिया.

बता दें जया बच्चन फिल्म सिलसिला में काम कर रही थी, तब उनकी नन्ही सी बेटी श्वेता ने कहा कि ‘आप हमारे साथ घर पर क्यों नहीं रहती? काम सिर्फ पापा को करने दीजिए.’ बेटी की इस बात ने जया को अंदर तक झकझोर कर रख दिया. इसके बाद जया ने फैसला लिया कि वह अब फिल्मों में कम नहीं करेंगी. उन्होंने एक्टिंग से दूरी बना ली.

अपने जमाने में कई सुपरहिट फिल्मों में जया बच्चन कर चुकी हैं काम

हालांकि, फिर एक लंबे अंतराल के बाद जया ने फिल्मों में कमबैक किया.वह साल 1998 में फिल्म ‘हजार चौरासी की मां’ में नज़र आईं. इसके बाद फिल्म ‘फिजा’, ‘कभी ख़ुशी कभी गम’, ‘कल हो ना हो’, और ‘लागा चुनरी में दाग’ जैसी कई फिल्मों में वह दिखाई दीं.