केजरीवाल और योगी में किसकी सैलरी है ज्यादा? कौन है सबसे महंगा सीएम, जानिये सभी मुख्यमंत्रियों की सैलरी?

0
9

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 164 के मुताबिक सीएम की नियुक्ति राज्यपाल करता है, भारत में कुल 28 राज्य तथा 8 केन्द्र शासित प्रदेश हैं, हर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों की सैलरी अलग-अलग होती है।

New Delhi, Oct 14 : अगले साल के शुरुआत में ही पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं, चुनाव के दौरान अकसर लोगों के जेहन में ये सवाल आता है कि सीएम की सैलरी कितनी होती है, क्या सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की सैलरी एक होती है। तो आइये इस बारे में हम आपको बताते हैं कि किस राज्य के सीएम को कितनी सैलरी मिलती है।

सीएम सैलरी
भारतीय संविधान के अनुच्छेद 164 के मुताबिक सीएम की नियुक्ति राज्यपाल करता है, भारत में कुल 28 राज्य तथा 8 केन्द्र शासित प्रदेश हैं, हर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों की सैलरी अलग-अलग होती है, हर 10 साल में सीएम की सैलरी में बढोतरी की जाती है। मुख्यमंत्रियों की सैलरी तथा भत्ते का निर्धारण राज्य विधानमंडल द्वारा किया जाता है। kejriwal जैसे प्रधानमंत्री देश का प्रधान होता है, वैसे ही सीएम अपने राज्य का प्रधान होता है, आमतौर पर लोगों का ये मानना है कि राष्ट्रपति की सैलरी सबसे ज्यादा होती होगी, उसके बाद प्रधानमंत्री की, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी, कि कुछ राज्यों के मुख्यमंत्रियों की सैलरी प्रधानमंत्री से ज्यादा है। मुख्यमंत्रियों की सैलरी की बात करें, तो तेलंगाना के सीएम को सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है, उसके बाद दूसरे नंबर पर दिल्ली के सीएम तथा तीसरे नंबर पर यूपी के सीएम हैं।

किसको कितनी सैलरी
त्रिपुरा- 1,05,000 रुपये मासिक
नागालैंड- 1,10,000 रुपये मासिक
मणिपुर- 1,20,000 रुपये मासिक
असम – 1,25,000 रुपये मासिक
अरुणाचल प्रदेश- 1,33,000 रुपये मासिक
मेघालय- 1,50,000 रुपये मासिक
ओडिशा- 1,60,000 रुपये मासिक
उत्तराखंड- 1,75,000 रुपये मासिक
राजस्थान- 1,75,000 रुपये मासिक
केरल- 1,85,000 रुपये मासिक
सिक्किम- 1,90,000 रुपये मासिक
कर्नाटक – 2,00,000 रुपये मासिक
तमिलनाडु- 2,05,000 रुपये मासिक

पश्चिम बंगाल- 2,10,000 रुपये मासिक
बिहार- 2,15,000 रुपये मासिक
गोवा – 2,20,000 रुपये मासिक
पंजाब- 2,30,000 रुपये मासिक
छत्तीसगढ- 2,30,000 रुपये मासिक
मध्य प्रदेश- 2,30,000 रुपये मासिक
झारखंड – 2,55,000 रुपये मासिक
हरियाणा- 2,88,000 रुपये मासिक
हिमाचल प्रदेश- 3,10,000 रुपये मासिक
गुजरात- 3,21,000 रुपये मासिक
आंध्र प्रदेश- 3,35,000 रुपये मासिक
महाराष्ट्र- 3,40,000 रुपये मासिक
उत्तर प्रदेश- 3,65,000 रुपये मासिक
दिल्ली – 3,90,000 रुपये मासिक
तेलंगाना-  4,10,000 रुपये मासिक

इसके अलावा मुख्यमंत्रियों को अलग से भत्ते भी दिये जाते हैं, मुख्यमंत्री को सरकारी आवास, फोन बिल, तथा गाड़ी समेत कई अन्य सुविधाएं मिलती है। भारत के पूर्वोत्तर राज्यों के मुख्यमंत्रियों को कम सैलरी मिलती है, arvind kejriwal on lockdown वहीं तेलंगाना, यूपी और दिल्ली के मुख्यमंत्रियों को ज्यादा सैलरी मिलती है, इन तीनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों की सैलरी राज्यपाल की तुलना में अधिक है।