भारत के खिलाफ चीन ने चली ऐसी चाल, मगर दोस्त अमेरिका ने कर दिया नाकाम

0
809

हम लोग देख रहे है कि किस तरह से देश बार में एक चीज को लेकर के बात चल रही है कि अब भारत को हर चीज में जहां तक हो सकता है आत्मनिर्भर बनना है और ऐसा करना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि जिस तरह के हालात अब इन दिनो में हमने चीन के साथ बनते हुए देखे है वो कोई ख़ास अच्छे थे नही, ऐसे में सबको एक बात ही समझ में आती है और वो ये कि अब चीन से अलग ही रहना है और दूर रहना है.

मगर ये देस हमेशा ही सबके साथ में कुछ न कुछ गलत के प्रयास में रहता है जैसा हाल ही में फिर से उसने करने की कोशिश की. दरअसल आपको मालूम तो होगा कि पाक के स्टॉक एक्सचेंज में अब कुछ वक्त पहले ही अटैक हुआ था और इसके बाद में वहाँ की सरकार ने इसका ठीकरा भारत पर ही फोड़ दिया.

इसके बाद में मामला काफी ज्यादा आगे बढ़ गया और अब ये चीन तक जा पहुंचा. चीन अब पाक की बात पर आँख बंद करके भरोसा कर रहा है और कह रहा है कि ऐसा भारत ने ही किया और इस आधार पर चीन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में इस पर चर्चा तो चाहता ही था साथ ही साथ में इस पर निंदा प्रस्ताव भी लाना चाह रहा था ताकि भारत को बेज्जत कर सके लेकिन भारत के दोस्त भी कम नही है.

अमेरिका ने पहले एक प्रेस स्टेटमेंट देकर के इस पर विरोध जता दिया और इसके बाद मे जर्मनी ने भी इसका विरोध कर दिया जिसके बाद में चीन का प्रस्ताव जेब का जेब में ही रखा रह गया. वो अब इसे लेकर के कही भी घूमता रहे लेकिन कम से कम अभी के लिए इतना तो हो ही गया है कि चीन की चाल नाकाम हो गयी है.