हिन्दुस्तान के नजदीकी इलाको में हालात खराब, चीन से निपटने को अमेरिका और ब्रिटेन ने सेनाये भेजी

0
488

हिन्दुस्तान और चीन के बीच में लगातार तनाव बढ़ रहा है और ये तनाव सब लोगो ने अच्छे तरीके से समझ भी लिया है कि चीन ने जो एक तरह से अपना बढ़ता हुआ प्रभाव है उसको किसी भी कीमत पर रोकना नही है और कही न कही ये सब जगह पर अस्थिरता पैदा करने का काम करेगा. ऐसे वक्त में अब चीन की हरकतों पर काबू लगाने के लिए कुछ एक ताकते है जो दुनिया भर से अपना जोर लगा रही है और काफी ज्यादा अच्छे तरीके से कर रही है.

अब हाल ही में अमेरिका और ब्रिटेन ने ने एक बहुत ही बड़ा फैसला किया है जिसके तहत वो अपनी फोर्सेज को चीन को टेकल करने के लिए एशिया में भेजने वाले है और ये अपने आप में एक बहुत ही बड़ी बात है. इस बात को मानना ही होगा.

पहले बात करे अमेरिका की तो अमेरिका ने यूरोप से अपने लगभग दस हजार के करीब सैनिक एशिया में अपने ठिकानों पर भेजने का फैसला लिया है और कही न कही इसके पीछे का कारण ये है कि अब अमेरिका चीन को अच्छे से घेरना चाह रहा है. अमेरिका के पीछे पीछे अब ब्रिटेन ने भी स्वेज नहर पर अपने कमांडोज तैनात करने का फैसला किया है. इस नहर के रूट पर चीन बहुत ही ज्यादा निर्भर है और ये निर्भरता इस हद तक ज्यादा है जिसे अब ब्रिटेन अपने अधिकार में लेना चाह रहा है.

अब एशिया से लेकर यूरोप तक के रीजन को देखे तो चीन को अमेरिका और ब्रिटेन मिलकर के अपनी फोर्सेज भेज भेजकर के घेर रहे है और ऐसे में चीन पर एक भारी दबाव की रचना होगी जो अपने आप में कही न कही इनके पूरे देश के लिए एक बड़ी समस्या हो सकती है और ऐसे वक्त में चीन क्या करता है ये कोई भी भविष्यवाणी नही कर सकता है.