जब खुद सैफ ने अमृता को अपने दोस्त के कमरे में धकेल दिया था, चलने वाली थी बन्दूक।

0
383

फिल्म इंडस्ट्री में सैफ अली खान की गिनती उन स्टार्स में की जाती है जो हर तरह का रोल करते हैं। सैफ अली खान जहा बॉलीवुड क जानेमाने स्टार है,वही उनकी पर्सनल लाइफ भी काफी उतार चढ़ाव भरी रही है, सैफ अली ने दो शादियां की है, उन्होंने पहली शादी साल 1991 में मशहूर अभिनेत्री अमृता सिंह से की थी। उस समय अमृता एक जानी मानी अभिनेत्री बन चुकी थी, तो वही सैफ ने अपना अभनीय का सफर ही शुरू किया था। आपको जानकर हैरानी होगी सैफ अपनी पहली शादी के समय सिर्फ 20 साल के थे वा अमृता की उम्र 32 साल थी। दोनों के बीच 12 साल का फर्क और दोनो के धर्म अलग-अलग धर्म होने के बावजूद दोनो ने शादी कर ली, पर यह शादी ज्यादा दिन तक टिक नहीं पाई,

13 सालों के बाद दोनो अलग अलग हो गए। दोनो के दो बच्चे है, सारा और इब्राहिमतलाक के बाद दोनों अपनी मां के साथ रहते है । हाल ही में उनकी फिल्म भूत पुलिस रिलीज हुई थी। हालांकि, ओटीटी पर रिलीज हुई इस फिल्म को ज्यादा रिस्पॉन्स नहीं मिला। इसी बीच सैफ से जुड़ा एक किस्सा वायरल हो रहा है, जिसे उनकी बेटी सारा अली खान ने एक चैट के दौरान सुनाया था।हाल ही में सारा अली खान ‘Feet Up With The Stars’ के दूसरे सीजन में दिखाई दी थी, जिसमें वे माता-पिता और उनके एक कॉमन फ्रेंड नीलू मर्चेंट के साथ हुईं प्रैंक के मजेदार किस्से को बताती हुई नजर आई। उन्होंने बताया कि इस प्रैंक में ऐसा कुछ हो गया,

जिसमें एक प्रैंक एक घटना में बदल सकती थी, उनका कहना था कि इस प्रैंक के कारण उनकी मां अमृता सिंह को असली गोली भी लग सकती थी। उन्होंने बताया कि उनके पापा की वजह से एक बार उनकी मम्मी अमृता सिंह गोली लगते-लगते बची थी। और यह सब सैफ की लापरवाही की वजह से हुआ था। एक इंटरव्यू में सारा अली खान ने उस किस्से का जिक्र किया था, जब उनके पिता सैफ ने उनकी मां अमृता सिंह को एक कमरे में अकेला छोड़ दिया था और उन्हें करीबी -करीब गोली लगने वाली थी।

सारा किस्सा बताया, “जब मेरी मां और मेरे पिता की शादी हुई थी, तो उन्होंने एक बार साथ मिलकर अपने चेहरे पर बूट पॉलिश लगाकर अपनी कॉमन फ्रेंड नीलू मर्चेंट को डराने का फैसला किया था. आखिरी समय में मेरे पिता ने दरवाजा खोला और मां को अंदर (नीलू मर्चेंट के कमरे में) धकेल दिया और दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। तो अब मेरी मां नीलू मर्चेंट के बेडरूम में थीं, नीलू मर्चेंट के पति ने मेरी मां को गोली मार दी होती, लेकिन मेरी मां ने अपना हाथ ऊपर कर दिया और चिल्लाते हुए कहा था, ‘गोली मत चलाना, मैं ‘डिग्गी’ (अमृता सिंह का निकनेम) हूं.”। इस दौरान हुआ यूं कि, उनके दोस्त अपने कमरे में सो रहे थे, अचानक बूट पॉलिश वाले चेहरे को देख कर उनकी दोस्त चिलाने लगी, उस समय उनके दोस्त के पति ने अपनी पत्नी की चीख-पुकार की आवाज सुनी और अपनी बंदूक निकाल कर अमृता पर तान दी।

सारा आगे बताती है कि वे भी ऐसा प्रैंक किसी के साथ करना चाहती है, उन्होंने कुछ यूं कह कर अपनी ख्वाहिश बताई “मेरे दिमाग में मेरी मां और मेरे पिता के चेहरे पर बूट-पॉलिश वाला सीन घूमता रहता है. मुझे लगता है कि, अगर आप मुझे और मेरे माता-पिता को जानते है, तो आप वास्तव में जानते होंगे कि, मैं किस बारे में बात कर रही हूं, क्योंकि मैं भी ऐसा करने वाली हूं. मैं बूट पॉलिश लगाऊंगी और किसी के कमरे में जाऊंगी और ऐसा प्रैंक करूंगी”।