फोन से मिली पति की शादी की खबर, रांची से गोड्डा पहुंची महिला, जानें फिर क्‍या हुआ?

0
257

एक महिला अपने पति की शादी को रुकवाने क लिए प्रदेश की राजधानी रांची से गोड्डा पहुंच गई. उन्‍होंने पुलिस से इस शादी को रुकवाने की गुहार लगाई. पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई न होने पर महिला ले SDPO को लिखित आवेदन देकर उन्‍हें मामले से अवगत कराया. बताया जाता है कि महिला ने इस बाबत पुलिस अधिकारी के सामने कुछ सबूत भी पेश किए हैं. एसडीपीओ का कहना है कि मामला सही पाए जाने पर आरोपी शख्‍स पर कार्रवाई की जाएगी.

रांची के रातू काटीताड थाना क्षेत्र की रहने वाली मनुस्मृति पति की शादी रुकवाने गोड्डा पहुंच गईं. पीड़ित महिला ने बताया कि 2019 में उनकी शादी गोड्डा के गुलजारबाग निवासी विभास से तत्कालीन थाना प्रभारी रेणु गुप्ता की उपस्थिति में बड़ी दुर्गा मंदिर में हुई थी. आरोप है कि प्रेम प्रसंग में हुए इस विवाह के बाद महिला को ससुराल में लगातार परेशानी हो रही थी. महिला ने बताया कि शादी के 4 महीने बाद उनके पति विभास ने कहा कि उन्‍हें पढ़ाई में परेशानी हो रही है, ऐसे में वह गोड्डा से रांची चली जाए. महिला के रांची जाने के बाद पति विभास से फोन पर लगातार उनकी बातचीत होती थी.

नक्‍सली प्रशांत बोस की गिरफ्तारी के विरोध में माओवादियों का 3 दिवसीय बंद आज से, पूरे झारखंड में अलर्ट

पीड़ि‍त महिला ने बताया कि उनके पास एक कॉल आया, जिसमें उन्‍हें बताया गया कि उनके पति विभास शादी कर रहे हैं. इसके बाद पीड़िता अपने परिजनों के साथ रांची से गोड्डा पहुंची और थाने में इस कथित शादी को रुकवाने के लिए गुहार लगाई. महिला ने बताया कि थाने ने इस मामले में उनकी मदद करने से मना कर दिया. इसके बाद पीड़िता ने SDPO के पास आवेदन देकर मदद की गुहार लगाई. इस बीच वह पति की कथित शादी रुकवाने अपने ससुराल पहुंच गई, लेकिन यहां घर में ताला लगा हुआ था.

SDPO आनंद मोहन सिंह ने बताया कि उन्हें पीड़ित महिला का आवेदन मिला है. यदि शादी के दस्तावेज सही हैं तो युवक पर विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी. फिलहाल नगर थाने को इस मामले में कार्रवाई का निर्देश दिया गया है और महिला को उनके घर रांची भेज दिया गया है. पुलिस ने महिला को मामले की छानबीन करने का आश्‍वासन दिया है.