शाहरुख की हिरोइन महिमा चौधरी ने खोला फिल्मी दुनिया का का’ला सच, कहा- इंडस्ट्री में टिकने के लिए कुंवारी और वर्जिन लड़की को पहले

0
8

महिमा चौधरी के हिसाब से आजकल की हीरोइनों को अच्छा काम मिलने लगा है। साथ ही उन्हें अच्छी पोजीशन दी जाती है। उनके साथ बड़े ब्रांड आकर काम करते हैं और उनको इस चीज का मोटा पैसा मिलता है। यह एक अच्छी बात है कि बॉलीवुड में काम करने वाली अभिनेत्रियां आगे बढ़ रही है लेकिन एक समय ऐसा नहीं था।

इस वक्त महिमा चौधरी के ऐसे बयान इंटरनेट पर छाए हुए हैं, जिसको सुनकर कई लोग स्तब्ध रह गए हैं। महिमा चौधरी ने बॉलीवुड फिल्मों में परदेस नाम की फिल्म से डेब्यू किया था, फिलहाल के लिए वह फिल्मी दुनिया से दूर रहती है लेकिन सोशल मीडिया के माध्यम से वह अपने चाहने वालों के साथ जुड़ी रहती है। बीते दिनों उनकी और उनकी बेटी की तस्वीरें इंटरनेट पर खूब वायरल हुई थी।

ऐसे में महिमा चौधरी ने कहा कि पहले इस प्रकार की चीजें नहीं होती थी। यदि कोई महिला बॉलीवुड इंडस्ट्री में कदम रखती थी तो उसको अलग निगाहों से देखा जाता था। यदि वह किसी को डेट करने लगती थी तो उसके बारे में कहा जाता था कि वह तो सिर्फ वर्जन होनी चाहिए।

वर्जिन उसे कहा जाता है जिसने कभी किसी के साथ संबंध स्थापित ना किया है, फिर चाहे वह पुरुष हो या महिला। बॉलीवुड को एक ऐसी लड़की चाइए होती थी जिसने कभी किसी को किस तक ना किया हो। लेकिन जब उसकी शादी हो जाती थी तो उसको अपने काम से दूर होना पड़ता था और यदि उस महिला का बच्चा हो गया तो भूल जाइए कि वह फिल्म करेगी। अब जमाना बदल गया है और बॉलीवुड में महिलाओं की अलग पहचान हो गई है।

बता दे की महिमा चौधरी की पहली फिल्म 1997 में आई थी, जिसका नाम परदेस था। इस फिल्म में वह शाहरुख खान के साथ नजर आई थी। इतना ही नहीं महिमा चौधरी इतनी ज्यादा फेमस हो गई थी कि 2006 में उनको बॉबी मुखर्जी ने पसंद कर लिया था और शादी कर ली थी। शादी के बाद 2013 में दोनों अलग हो गए थे। फिलहाल के लिए महिमा और बॉबी की एक बेटी है।