पोते पृथ्वी अम्बानी को बड़े लाड से माथे पर किस करते नजर आये मुकेश अम्बानी,परिवार के शहजादे का क्यूट विडियो आया सामने

0
7

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने हाल ही में व्यक्त किया कि,पृथ्वी आकाश अंबानी के दादा होने की उनकी नई यात्रा कैसे खुशी से भरी है.रिलायंस इंडस्ट्री के संस्थापक धीरूभाई अंबानी की 89वीं जयंती के मौके पर आयोजित रिलायंस फैमिली डे 2021 के डिजिटल कार्यक्रम के दौरान मुकेश ने अपने पोते का जिक्र किया.आइए आपको इस बारे में बताते हैं.

10 दिसंबर 2020 को मुकेश और नीता के बड़े बेटे आकाश अंबानी और श्लोका मेहता ने अपने पहले बच्चे का स्वागत किया था.अंबानी परिवार के प्रवक्ता के एक आधिकारिक बयान में अंबानी परिवार की अगली पीढ़ी के आने की घोषणा की गई थी.बयान में श्लोका और तत्कालीन नवजात शिशु के स्वास्थ्य अपडेट का भी खुलासा हुआ था.

बयान में बताया गया था कि,भगवान कृष्ण की कृपा और आशीर्वाद से,श्लोका और आकाश अंबानी आज मुंबई में एक बच्चे के माता-पिता बन गए.नीता और मुकेश अंबानी पहली बार दादा-दादी बनकर खुश हैं, क्योंकि उन्होंने धीरूभाई और कोकिलाबेन अंबानी के परपोते का स्वागत किया है.मां और बेटा दोनों स्वस्थ हैं.नए आगमन से पूरे मेहता और अंबानी परिवार में अपार खुशी आई है

28 दिसंबर 2021 को मुकेश अंबानी ने अपने सहयोगियों, दोस्तों और परिवार को संबोधित करते हुए दादा-दादी होने के अपने नए सफर को साझा किया.उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत अंबानी परिवार के सबसे नए सदस्य का स्वागत करते हुए की और खुलासा किया कि,

वह उनके जीवन में अपार खुशियां लेकर आए हैं. उन्होंने कहा कि,पृथ्वी हमारे परिवार का सबसे नया सदस्य है.पिछले एक साल में, उसने हमारे जीवन में असीम आनंद लाया है.मुझे यकीन है कि, आप में से सभी माता-पिता और दादा-दादी ने अपने बच्चों के साथ समान आनंद का अनुभव किया है

इस वर्चुअल मीटिंग के दौरान मुकेश अंबानी ने महामारी ने उन्हें जो सबक सिखाया है, उसे भी साझा किया.उन्होंने कहा कि, इस दौर में सबसे पहले ‘परिवार’ है.उन्होंने साझा किया कि,वर्क फ्रॉम होम’ संस्कृति ने हमें अपने बच्चों, माता-पिता और जीवनसाथी के साथ अधिक समय बिताने में सक्षम बनाया है। आखिर वे इस कठिन समय में हमारी ताकत रहे हैं.

इसी कार्यक्रम में मुकेश अंबानी ने रिलायंस इंडस्ट्री के नेतृत्व को अपने बच्चों को सौंपने के बारे में भी बात की.देश के सबसे अमीर व्यक्ति अंबानी ने देश की सबसे मूल्यवान कंपनी में उत्तराधिकार को लेकर पहली बार कोई वक्तव्य देते हुए कहा, ‘बड़े सपनों और नामुमकिन नजर आने वाले लक्ष्यों को हासिल करने के लिए सही लोगों को जोड़ना और सही नेतृत्व होना जरूरी है.रिलायंस अब एक महत्वपूर्ण नेतृत्व बदलाव को अंजाम देने की प्रक्रिया में है.

यह बदलाव मेरी पीढ़ी के वरिष्ठों से नए लोगों की अगली पीढ़ी को होगा.उन्होंने कहा कि, वह इस प्रक्रिया को तेज करना चाहेंगे.अंबानी ने अपने संबोधन में कहा, ‘मुझे लेकर सभी वरिष्ठों को अब रिलायंस में बेहद काबिल, प्रतिबद्ध एवं प्रतिभाशाली युवा नेतृत्व को विकसित करना चाहिए.

हमें उनका मार्गदर्शन करना चाहिए, उन्हें सक्षम बनाना चाहिए और प्रोत्साहित करना चाहिए और जब वे हमसे बेहतर प्रदर्शन करते हुए दिखाई दें, तो हमें आराम से बैठकर तालियां बजानी चाहिए.हालांकि, उन्होंने इस बारे में अधिक ब्योरा नहीं दिया.